Friday, 13 December 2019
khabarexpress:Local to Global NEWS

दसवीं पास करके भी सी.ए. पाठ्यक्रम के लिये पंजीयन करा सकते है विद्यार्थी


Dr Ajay Joshiसी.ए. के पेशें को अपनाने के इच्छुक विद्यार्थी अब दसवीं पास करके भी स पाठ्यक्रम हेतु अपना पंजीयन करवा सकते हैं। द इन्स्टीट्यूट ऑफ चार्टड एकाउन्टेट्स ऑफ इण्डिया ने सी.ए. के पाठ्यक्रम की नई योजना जारी की हैं। इस योजना के अन्तर्गत पंजीकृत विद्यार्थी अपनी सीनियर सैकण्डरी परीक्षा में प्रविष्ट होने के बाद कॉमन प्रोफिसिसेन्सी टेस्ट (सीपीटी) में प्रविष्ट हो सकता हैं। संस्थान ने चार घंटे की अवधि का यह टैस्ट डिजाईन किया है जो अभी तक प्रचलित पी.ई. प्रथम परीक्षा का स्थान होगा।

यह टैस्ट चार घंटे का होगा जिसके पूर्णाक दो सौ अंक होंगें। यह टैस्ट दो भागों में विभक्त होगा। भाग प्रथम के खण्ड ए में ६० अंको का फण्डामेन्ट ऑफ एकाउन्ट्स तथा खण्ड बी में ४० अंको को मर्केन्टाईल लॉ का पेपर होगां। प्रथम भाग दो घंटे का होगा। इसमे थोडा गेप देने के बाद भाग द्वितीय का प्रश्न पत्रा होगा। इसमें भी दो खण्ड होंगे। इसका खण्ड सी जनरल इकोनोमिक्स तथा खण्ड डी क्वान्टेटिव एप्टीट्यूड का होगा। ये दोनो खण्ड ५०-५० अंको के होंगे।
यह सम्पूर्ण टैस्ट बहुविकल्पी प्रश्नों का होगा। विद्यार्थी को एक प्रश्न के विभिन्न विकल्पों में से सर्वाधिक उपयुक्त विकल्प का चुनाव करना होगा। इस टैस्ट में गलत उत्तर के लिये कुछ ऋणात्मक अंकन की व्यवस्था होगी। इस टैस्ट का स्तर आधारभूत जानकारी वाला होगा। इसमें उर्त्तीण होने के कलये ५० प्रतिशत अंक लाने अनिवार्य होंगे।
संस्थान इस टैस्ट हेतु पूरी अध्ययन सामग्री उपलब्ध करायेगा। इसमें चार पुस्तके तथा एक सीडी होगी जिसमें सम्पूर्ण पाठ्यक्रम से जुडी सामग्री होगी। इस सीडी के माध्यम से विद्यार्थी स्वयं भी अपने अध्ययन व ज्ञान की जांच कर सकेंगे। वे अपी कमजोरियों तथा विशेषताओं का पता लगाकर भावी तैयारी कर सकेंगे।
इस टैस्ट को पास करने के बाद विद्यार्थी सी.ए. के लिए अपने निर्धारित प्रोफेशन काम्पीटेन्सी परीक्षा में प्रविष्ट हो सकेंगे। इस हेतु सीपीटी परीक्षा पास करने के बाद १५ माह की ट्रेनिंग लेनी होगी। साथ ही इन्फोरमेशन टेक्नोलॉजी की भी ट्रेनिंग प्राप्त करनी होगी। इस परीक्षा तथा व्यावहारिक प्रशिक्षण व सूचना प्रौद्योगिकी हेतु निर्धारित प्रशिक्षण पूरा करने के बाद विद्यार्थी सी.ए. फाईनल की परीक्षा में प्रविष्ट हो सकेगा।
सीपीटी परीक्षा के माध्यम से संस्थान द्वारा जारी नई योजना से विद्यार्थी अपेक्षाकृत कम समय में सी.ए. के पेशे में प्रविष्ट हो सकते हैं। संस्थान की पुरानी पाठ्यक्रम व प्रशिक्षण योजना में सी.ए. बनने में विद्यार्थी को कुल ५ वर्ष तथा ३ माह लगते थे लेकिन अब ४ वर्षो में ही विद्यार्थी सी.ए. बन सकता हैं। इससे उसके अमूल्य एक वर्ष तथा तीन माह की बचत होगी साथ ही वह नये विषयों व नई जानकारियों को इस पाठ्यक्रम के माध्यम से ग्रहण कर सकेगा जो कि वर्तमान भूमण्डलीकरण के दौर में सी.ए. के पेशे के लिये बहुत जरूरी तथा उपयोगी हैं।
सीपीटी प्रति तीन माह में एक बार अर्थात् वर्ष में चार बार फरवरी,मई,अगस्त तथा नवम्बर माह में आयोजित होगा। इस वर्ष यह परीक्षा नवम्बर २००६ में प्रस्तावित हैं। इसका १ सितम्बर २००६ से पंजीयन होगा। इस परीक्षा हेतु १५०० रू. फीस का भुगतान करके पंजीयन कराया जा सकता है तथा पंजीयन के ६० दिन बाद परीक्षा में प्रविष्ट हो सकते हैं। पंजीयन संबंधी जानकारी तथा आवेदन पत्रा आदि द इन्स्टीट्यूट ऑफ चार्टड एकाउन्टेट्स ऑफ इण्डिया, आई.सी.ए.आई. भवन, इन्द्रप्रस्थ मार्ग, नई दिल्ली या इसके विभिन्न क्षेत्राीय अध्ययन केन्द्रों तथा शाखाओ ंसे प्राप्त की जा सकती हैं।
संस्थान की सी.ए. पाठ्यक्रम की यह योजना सैकण्डरी उत्तीर्ण करते ही छात्रा को अपना पेशेवर पाठ्यक्रम का चुनाव करने तथा इस हेतु मानसिक रूप से तैयार होने में सहायक होगी। १०वीं परीक्षा उत्तीर्ण विद्यार्थी अपनी सीनियर सैकण्डरी परीक्षा देने तक इस टैस्ट की बहुत अच्छे

( डॉ. अजय जोशी)
निदेशक, रोजगार स्वरोजगार मार्गदर्शन संस्थान, बिस्सों का चौक, बीकानेर