Sunday, 20 August 2017

अंग्रेजी के लिए पेशेवर माहौल प्रदान करते है प्रतीक सर

अंग्रेजी के लिए पेशेवर माहौल प्रदान करते है प्रतीक सर

बीकानेर शिक्षा जगत के सितारे

आज के भाग-दौड़ वाले समय में युवा वर्ग को जहाँ स्वयं के कैरियर संवारने की चिंता सताए रहती है वहीं दुसरी तरफ बीकानेर शहर के अंग्रेजी विषय के अध्यापक प्रतीक सर जो कि बहुत ही कम समय में युवा वर्ग का कैरियर संवार कर निरन्तर प्रसिद्धि प्राप्त कर रहे है। पारम्परिक मान्यताओं और व्यवस्थाओं से चलने वाले शहर बीकानेर में अंग्रेजी केवल एक अनिवार्य विषय समझकर विस्मित कर दिया जाता है, ऐसे स्थान पर आधुनिक युवा शक्ति  का उज्ज्वल भविष्य के निर्माण हेतु प्रतिबद्ध होकर युवा वर्ग को न केवल अंग्रेजी भाषा अपनाने हेतु प्रेरित कर रहे है बल्कि उन युवाओं को पेशेवर तरीके से बेहतरीन वातावरण भी मुहैया करवा रहे है जिससे अंग्रेजी विषय को सीखने, बोलने, समझने व लिखने का अवसर मिलता है।
महज 27 वर्षीय युवा उद्यमी प्रतीक सर भारत के प्रसिद्ध आॅनलाइन न्युज वेब पोर्टल खबरएक्सप्रेस.काॅम की टीम को दिए अपने साक्षात्कार के दौरान बताते है कि उनकी स्कूली शिक्षा उदयपुर के गुरूनानक विद्यालय तथा स्नातक स्तर की शिक्षा नोबल काॅलेज उदयपुर से पूर्ण की । प्रतीक सर केवल अंग्रजी विषय का ज्ञान ही उपलब्ध करवाने के प्रश्न का जवाब देते हुए बताते है कि करीब 8 वर्ष पहले अंग्रेजी विषय से मेरा जुडाव हुआ तब मैने पाया कि छात्र वर्ग में अंग्रेजी विषय को लेकर बहुत ही दयनिय स्थिति बनी हुई है तब मेरे दिल में बेहद पीड़ा उत्पन्न हुई और मैने अंग्रेजी विषय के अध्यापन क्षेत्र को जमिनी स्तर से लेकर व्यवसायिक , राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर तक सुधार करने की मन में ठानी और इस क्षेत्र में अपने तन-मन-धन से जुट गया । मै जानता हूँ कि मेरे शहर की युवा शक्ति जो कि प्रतिभा की धनी है, केवल इस विषय की अज्ञानता अथवा झिझक एवं समुचित मार्गदर्शन के अभाव के कारण पिछडता जा रहा है, तब मुझे महसूस हुआ कि अंग्रेजी विषय में जहाँ तक मेरी विशिष्ट जानकारी है मुझे अपने ज्ञान को युवा शक्ति के साथ साझा करके अंगेजी भाषा का वास्तविक अध्यापन, वैज्ञानिक तरीके से प्रदान कर योगदान देना चाहिए क्योकि यह एक ऐसी भाषा है जो अपने स्वयं के ज्ञान को वैश्विक स्तर पर पहचान दिलाने एवं साख वृद्धि में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है । इसलिए मैने अंग्रेजी अध्यापन के कार्य को पेशेवर एवं वैज्ञानिक अंदाज में करने के लिए ’बेस्ट इंस्टिट्यूट’ की स्थापना की।
’बेस्ट इंस्टिट्यूट’ में प्रतीक सर अपने विद्यार्थीयों को प्रेरित करते हुए बताते है कि हमारे संस्थान में हम कठिन मानी जाने वाली ग्रामर को सरल मनोवैज्ञानिक तरीको से पढ़ाया जाता है। प्रभावशाली अंग्रेजी भाषा विद्यार्थीयों को बेहतर नौकरी और सामाजिक प्रतिष्ठा दिलाती है। किसी भी भाषा में सिद्धहस्त हाने के लिए 30दिन, 60दिन, और 90दिन की समयावधि निर्धारित करना महज विद्यार्थीयों को दिग्भ्रमित करने एवं बेतुके प्रयास है । प्रतीक सर आगे बताते है कि विश्वप्रसिद्ध शिखर वक्ताओं की श्रेणी में स्वामी विवेकानन्द, रविन्द्र नाथ टैगोर, लिंकन अम्बानी आदि के पास न सिर्फ अपार ज्ञान था अपितु आकर्षक बोलने की कला ने उन्हंे उच्च स्थान दिलाया । इसलिए क्या, कैसे, कब और किस भाषा का उपयोग लेना है ? ऐसी योग्यता को हासिल करने की शिक्षा ’बेस्ट इंस्टिट्यूट’ में आधुनिक आॅडियो-विजुअल तकनिक के माध्यम  से मेरे द्वारा प्रभावशाली तरीके से दी जाती है।
प्रतीक सर अपने भविष्य की योजनाओं के बारे में बताते है कि वो अंग्रेजी शिक्षण हेतु सफल परिणाम दिलाने में संस्थान में आने वाले विद्यार्थीयों और उनके अभिभावकों के प्रति आजीवन प्रतिबद्ध रहेगें । आगे वो बताते है कि अभी ग्रामीण क्षेत्रों की युवा शक्ति तक अंग्रेजी भाषा की पहूँच न के बराबर है हमारा प्रयास ग्रामीण क्षेत्रों से प्रतिभा तराश कर उनक योग्यता का देश-विदेश तक लौहा मनवाना रहेगा। हमारा लक्ष्य बीकानेर शहर के प्रत्येक परिवार तक अंग्रेजी शिक्षा को पहँूचाना है।
पुरानी गिन्नाणी निवासी प्रतीक सर का संस्थान आके काॅम्प्लेक्स में स्थापित है।


--- अतुल आचार्य