Wednesday, 18 October 2017

मिग-21 लडाकू जहाज दुर्घटनाग्रस्त, पायलट की मौत

फ्लाईग ऑफिसर एस पिल्लई की मौत

बीकानेर, भारतीय वायुसेना लडाकू जहाज मिग-21 मंगलवार को नाल एयरपोर्ट क्षेत्र से लगभग तीन किमी दूर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। मिग-21 के क्रैश होने से उसमें सवार फ्लाईग ऑफिसर की मौत हो गई। श्री गंगानगर, जैसलमेर बाईपास हाईवे के समीप हुए मिग-21 के क्रैश होने से उसका मलबा लगभग एक से डेढ किलोमीटर क्षेंत्र में फैला गया। मिग-21 वायुवान के क्रैश होने की सूचना मिलते ही नाल वायु सेना क्षेत्र में एक-बारगी अफरा-तफरी सी मच गई। वायु सेना के अधिकारी मय राहत दल दुर्घटनाग्रस्त स्थल पर पंहुच गये। व विमान के मलबे के क्षेत्र में वायु सेना के जवानों ने अपने क्षेत्र में ले लिया। हादसे की इतना मिलते ही जिला व पलिस प्रशासन के अधिकारी भी घटनास्थल पर पंहुच गये। जानकारी के अनुसार मिग 21 के टेक ऑफ के दौरान हुई इस दुर्घटना में फ्लाईग ऑफिसर एस पिल्लई की मौत हो गई। जिला पुलिस अधीक्षक के अनुसार लगभग 12 बजे हुई दुर्घटना में विभाग का मलबा एक से डेढ किलोमीटर तक बिखर गया व पायलट फ्लाईग ऑफिसर एस पिल्लई की मौत हो गई। पिल्लई के शव को मिलट्री अस्पताल भिजवाया गया। एस पी ने बताया कि विमान हादसे की जांच के लिए टीम बीकानेर पंहुच रही है। जांच के बाद ही हादसे का सही कारण सामने आ सकेगा। प्रारम्भिक रूप से हादसे का कारण विमान में तेज रिसाव को माना जा रहा है। जिससे उसमें आग लग गई व दुर्घटनाग्रस्त हो गया। आसपास रहने पालों के अनुसार विमान गिरने से धमाका हुआ व आग निकली। मिग-21 दुर्घटनाग्रस्त होने से उसके परखच्चे उड गये। वायुसेना अधिकारियों ने काफी मशक्कत के बाद पायलट के शव को ढूंढा। वायुसेना के सुरक्षा अधिकारियों ने घटना स्थल पर पंहुचकर बारीकी से जांच की व ब्लैक बॉक्स को अपने कब्जे में लिया। वायुसेना द्वारा मिश 21 दुर्घटनाग्रस्त होने के वास्तविक कारणों का फिलहाल खुलासा नही किया है। 

MiG-21   Pilot Death   Nal Airforce   Plan Crash   Indian Air Force