Wednesday, 27 March 2019
khabarexpress:Local to Global NEWS
  606 view   Add Comment

पटवारी को 17 सीसी का नोटिस जारी, सूरजी देवी को मिली राहत

जिला स्तरीय जनसुनवाई में गौतम ने दिए निर्देश

पटवारी को 17 सीसी का नोटिस जारी, सूरजी देवी को मिली राहत

बीकानेर, 14 फरवरी। जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने कहा कि सभी उपखंड अधिकारी व ब्लाॅक स्तरीय अधिकारी नियमित रूप से अपने कार्यालयों में जनसुनवाई करें तथा लोगों की समस्याओ का त्वरित निस्तारण कर उन्हें राहत दें। 
 

जिला कलक्टर गौतम ने गुरूवार को राजीव गांधी सेवा केन्द्र में जनसुनवाई करते हुए कहा कि लोग अपनी छोटी-छोटी समस्याओं के समाधान के लिए महीनों आॅफिसों का चक्कर लगाते हैं लेकिन उनकी समस्याओं का समाधान नहीं होता। छोटी से छोटी समस्या के समाधान के लिए उन्हें जिला मुख्यालय का चक्कर लगाना पड़ता है। इसमें उनका श्रम, समय औध धन जाया होता है। सभी विभागों तथा उपखंडों के अधिकारी आमजन की समस्याओं को गंभीरता से लें, लोग बहुत उम्मीद के साथ उनके पास पहुंचते हैं। अधिकारी परिवेदनाओं के निस्तारण को प्राथमिकता पर रखते हुए काम करें। उन्होंने कहा कि यदि किसी व्यक्ति की समस्या के समाधान में कोई तकनीक या अन्य दिक्कत है तो उसे संतोषप्रद लिखित जवाब समयबद्ध तरीके से प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा कि जब भी जनसुनवाई करें, जनसुनवाई में पहुंचे परिवादियों को रसीद आवश्यक रूप से प्रदान करें।

गौतम ने कहा कि सार्वजनिक कार्यों में भ्रष्टाचार आदि की सूचना या शिकायत करने वाले लोगों को पुलिस सुरक्षा मुहैया करवाए। हंसेरा में एक आम व्यक्ति द्वारा शिकायत करने के बाद उसे पुलिस द्वारा पाबंद किए जाने व उसके बेटे के साथ पिटाई के मामले में जांच के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि पुलिस इस कार्य में दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि पुलिस इस प्रकरण में कार्यवाही करते हुए  यह सुनिश्चित करें कि ऐसा माहौल न बने कि कोई भी आम व्यक्ति भ्रष्टाचार आदि में संलिप्त लोगों की शिकायत करने से डरे। उन्होंने हंसेरा प्रकरण में लूणकरनसर एसडीएम को फोलोअप के निर्देश दिए।
जिला कलक्टर ने कहा कि पुलिस यह सुनिश्चित करें कि स्कूलों में बच्चों को लाने ले जाने में लगे वाहन सुरक्षा मानकों के अनुरूप हो तथा इन वाहनों के चालक, सहचालक आदि का वेरिफिकेशन हो तथा  मोबाइल नम्बर आदि बसों पर अंकित हो।  

जिला कलक्टर ने कहा कि ट्रैफिक मैनेजमेंट कमेटी (टीएमसी) की बैठक में लिए गए निर्णयों की अनुपालना सही नहीं है, शहर में आमजन को ट्रेफिक समस्या से राहत मिले यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने ने कहा कि शहर में सड़कों पर भवन निर्माण सामग्री आदि मुख्य मार्गों पर बेचे जाने की कई शिकायतें मिली है इस सम्बंध में सख्त कार्यवाही करें अन्यथा सम्बंधित अधिकारी के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। गौतम ने जूनागढ़ के सामने लगने वाली चैपाटी मुख्य सड़क से तुरंत प्रभाव से हटाने की कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

सूरजी देवी को मिली राहत
जोधपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के सम्बंध में दायर प्रकरण में जिला कलक्टर ने बताया कि इस प्रकरण में प्रार्थी द्वारा कनेक्शन पुनः देने के लिए 3 लाख 5 हजार रूपए की छूट दिलवाई गई है। प्रार्थी को 31 मार्च तक 4 लाख 65 हजार रूपए जमा करवाने के बाद बिजली कनेक्शन पुनः दे दिया जाएगा। रतन देवी के प्रकरण में जिला कलक्टर ने सौलर कनेक्शन जारी करने के निर्देश दिए। नोखा के जसरासर से पहुंचे एक परिवादी ने पटवारी की लापरवाही के चलते म्यूटेशन जारी नहीं करने की शिकायत की । इस जिला कलक्टर द्वारा करवाई गई तफ्शीश में जानकारी मिली कि पटवारी ने चार माह तक म्यूटेशन जारी नहीं कर परिवादी को परेशान किया। इसके बाद जिला कलक्टर ने आरोपी पटवारी को 17 सीसी का नोटिस जारी करने के आदेश दिए। विधवा पेंशन स्वीकृत करने के एक प्रकरण की सुनवाई करते हुए उन्होंने कहा कि सामाजिक सुरक्षा से जुड़ी योजनाओं के तहत विभिन्न विभाग अपने यहां प्राप्त आवेदनों को सर्वोच्च प्राथमिकता दें और आवश्यक प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरा कर सम्बंधित की पेंशन आदि स्वीकृत करवाएं। उन्होंने कहा कि इस तरह के प्रकरण में जिस भी स्तर पर प्रकरण लम्बित पाए जाएंगे, उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। 

श्रम विभाग का है बुरा हाल
कुमार पाल गौतम ने श्रम विभाग में 2016 से मृतक हिताधिकारी को सहायता लेने के एक प्रकरण पर सुनवाई करते हुए कहा कि विभाग के टालमटोल रवैए के चलते हजारों लोग परेशान है। प्रक्रियाओं में आवेदन फंसे रहते हैं और लोग इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यदि कोई प्रकरण आॅफलाइन है तो विभाग ऐसे समस्त प्रकरणों को अगले स्तर पर निस्तारण के लिए भेंजे। बैठक में सभी उपखंड अधिकारियों को वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के जरिए निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि फसल ऋण माफी योजना के तहत जो भी किसान पात्रता रखते हैं और जिन किसानों के डाटा एकत्र नहीं किए गए हैं , उनके डाटा एकत्र कर रविवार तक आवश्यक रूप से अपलोड करें। ऋ़ण माफी प्रमाण पत्र वितरण के कार्य में देरी नहीं हो, यह सुनिश्चित किया जाए।

जनसुनवाई में प्रस्तुत पीपेरां में चार माह से पाइपलाइन लीेकेज का प्रकरण में जिला कलक्टर ने इस सम्बंध में जनस्वास्थ्य व अभियांत्रिकी विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया। उन्होंने कालू में जलस्वावलम्बन कार्य के तहत खेतों में निर्मित कुंओं की जांच करवाने के लिए वाटरशेड एसई को निर्देश दिए और शुक्रवार तक इसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा। 

जिला कलक्टर ने जन अभाव अभियोग निराकरण समिति की बैठक भी ली और  पंजीबद्ध प्रकरणों की सुनवाई कर निर्देश दिए। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ए एच गौरी, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) शैलेन्द्र देवड़ा, नगर विकास न्यास सचिव राष्ट्रदीप यादव सहित विभिन्न अधिकारी उपस्थित थे।

Rajasthan Sampark, Bikaner Collector, IAS Kumarpal Gautam, ,

Share this news

Post your comment