Wednesday, 13 December 2017

सार्वजनिक पुस्तकालय में रोजगार मार्गदर्शन और सरकारी योजनाओं के बारे में मिले जानकारी

राजकीय सार्वजनिक मंडल पुस्तकालय से सम्बद्ध पुस्तकालय विकास समिति की वार्षिक बैठक

सार्वजनिक पुस्तकालय में रोजगार मार्गदर्शन और सरकारी योजनाओं के बारे में मिले जानकारी

बीकानेर, 16 मार्च। सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारी तथा राजकीय सार्वजनिक मंडल पुस्तकालय अध्यक्ष हरि शंकर आचार्य ने कहा है कि प्रतिस्पद्र्धा के इस युग में वाचनालय व पुस्तकालय में आने वाले पाठकों को बेहतर सुविधाओं के साथ रोजगार मार्गदर्शन तथा राजकीय नीतियों व गतिविधियों से अवगत करवाया जाएगा। 
आचार्य बुधवार को सूचना केन्द्र में आयोजित राजकीय सार्वजनिक मंडल पुस्तकालय से सम्बद्ध पुस्तकालय विकास समिति की वार्षिक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक मंडल पुस्तकालय में अध्ययन करने वाले पाठकों की संख्या में वृद्धि को देखते हुए आवश्यक संख्या में फर्नीचर व अन्य साधन सुविधा के लिए जन प्रतिनिधियों, भामाशाहों व दानदाताओं से सहयोग लिया जाएगा। राज्य सरकार की ओर से प्राप्त साहित्य को सार्वजनिक मंडल पुस्तकालय में भी अध्ययन व निःशुल्क वितरण के लिए रखा जाएगा। 
पुरातत्व व संग्रहालय विभाग वृत्त अधीक्षक व पुस्तकालय विकास समिति के सचिव जफर उल्लाह खां ने पुस्तकों को दीमक से बचाने के लिए दीपक रोधी ट्रीटमेंट करने, चैकीदार की व्यवस्था, सी.सी.टी.वी. कैमरे, पाठकों की संख्या को देखते हुए एक नया हाॅल बनाने, बाल उद्यान को विकसित करने, कम्प्यूटर कर्मी लगाने, पुस्तकालयाध्यक्ष के रिक्त पद को भरवाने सहित अन्य बिंदुओं पर विचार विमर्श किया गया। बैठक के समस्त प्रस्तावों को राज्य सरकार को अनुमोदन के लिए भेजा जाएगा। बैठक में समिति सदस्य व साहित्यकार प्रकाश चन्द्र वर्मा ने महिला पाठकों के लिए अलग से कक्ष बनाने का सुझाव रखा। सहायक पुस्तकालयाध्यक्ष विमल कुमार शर्मा व सदस्य प्रवीण गहलोत ने पुस्तकालय की गतिविधियों के बारे में बताया तथा लेखा-जोखा प्रस्तुत किया। 

 

Govt Library   Bikaner Libraries   PRO Hari Shankar Acharya