Monday, 11 December 2017

जल चेतना रथ यात्रा ने दिया जल बचाने का संदेश

जल संसाधन आयोजना विभाग एंव इयूएससीपी के तत्वावधान में सत्या फांउडेशन के द्वारा श्रीकोलायत उप-ड में जल चेतना रथ यात्रा

बीकानेर, शिक्षा एंव संचार प्रकोष्ठ,जल संसाधन आयोजना विभाग एंव इयूएससीपी के तत्वावधान में सत्या फांउडेशन के द्वारा श्रीकोलायत उप-ड में जल चेतना रथ यात्रा को पंचायत समिति के विकास अधिकारी सुरेंद्रसिंह राठौड ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

इस दौरान विकास अधिकारी सुरेंद्रसिह राठौड ने कहा कि जल आने वाले कल का भविष्य है इसे बूंद बूंद कर बचाए।जल की बचत आने वाले समय का भविष्य है तथा बरसाती पानी का संचय सभी को करना चाहिए तभी पानी का संकट दूर- हो पाएगा।ग्रामीण क्षेत्र में पेयजल स्रोतों का सरंक्षण कर भी जल का संचय किया जा सकता है। इस अवसर पर सरपंच श्रीमती मंगेज कंवर ने कहा कि पानी प्राकृतिक संशाधन है इसे बनाया नही जा सकता,इसके लिए बरसात के पानी का संग्रहण कर इसे पेयजल के लिए प्रयोग किया जा सकता है।इससे खासतौर पर ग्रामीण क्षेत्र की पेयजल समस्या का समाधान हो सकता है। ब्लांक कार्डिनेटर नाथूलाल ने बबताया कि जल चेतना यात्रा श्रीकोलायत से रवाना होकर पंचायत समिति के गांव दियातरा,झझू,चानी,कोटडी सहित आधा दर्जन ग्राम पंचायतों में गई। जंहा पर ग्रामीणे को पानी बचाने के लिए प्रचार प्रसार सामग्री का वितरण कर जल बचाने की जानकारी दी गई।इसके साथ- ही किसानों को बूंद बूंद सिंचाई के बारे में जानकारी प्रदान की गई।इस अवसर पर पंचायत समिति के अधिकारी,पंचायत समिति सदस्य, जलदाय विभाग के अधिकारी भी मौके पर मौजूद थे।

EUSCP   Surendra Singh Rathor