Monday, 23 October 2017

जिले में डीएपी,यूरिया एवं एसएसपी पर्याप्त मात्र में उपलब्ध,सुचारु वितरण जारी

बुधवार को २४०० मैट्रिक टन डीएपी का नया रैक मिला

नुमानगढ, २६ अक्टूबर।  जिले में अक्टूबर माह में पर्याप्त मात्र में उर्वरकों की उपलब्धता रही है तथा इसका सुचारु वितरण किया जा रहा है। उपनिदेशक कृषि (तिलहन) श्री सुवालाल जाट ने बताया कि बुधवार को डीएपी (आईपीएल) का एक नया रैक(२४०० मैट्रिक टन)  जिल को मिला है। जिले में  डीएपी के लिए अक्टूबर माह में निर्धारित ८ हजार मीट्रिक टन के लक्ष्य के मुकाबले अब तक ७ हजार ८६० मीट्रिक टन डीएपी प्राप्त हो चुका है। उन्हने बताया कि  इस माह ७ अक्टूबर  को इफको द्वारा २५० मीट्रिक टन, १३ अक्टूबर को आईपीएल द्वारा २ हजार ४०० मीट्रिक टन, १९ अक्टूबर को इफको द्वारा १ हजार २६० मीट्रिक टन , २२ अक्टूबर को कारगिल द्वारा १ हजार १५० मीट्रिक टन तथा २४ अक्टूबर को आईपीएल को २ हजार ४०० मीट्रिक टन डीएपी उपलब्ध करवाया गया है। 
इसी प्रकार चालू माह में यूरिया के १० हजार ३०० मीट्रिक टन के लक्ष्य के विरुद्ध अब तक  ८ हजार २ मीट्रिक टन यूरिया उपलब्ध हुआ है।  इस माह १५ अक्टूबर को ३ हजार ७५९  मीट्रिक टन, २०  को चम्बल का २ हजार ५०७ मीट्रिक टन एवं २१ अक्टूबर को कृभको का १ हजार ७०० मीट्रिक टन यूरिया उपलब्ध हुआ है। 
इसी प्रकार ३ हजार २०० मीट्रिक टन के लक्ष्य के मुकाबले १ हजार ६४५ मीट्रिक टन एसएसपी जिले को इस माह में प्राप्त हुआ हैं । जिसके तहत १३ अक्टूबर को खेतान द्वारा ३०६ मीट्रिक टन, १९ अक्टूबर को रामा द्वारा ३० मीट्रिक टन, २४ को लिबर्टी द्वारा १ हजार १०० मीट्रिक टन तथा आईपरएल द्वारा ४२५ मीट्रिक टन एसएसपी प्राप्त हुआ है। उपनिदेशक कृषि ने बताया कि  जिले में एसएसपी पर्याप्त मात्र में उपलब्ध है तथा उसकी सप्लाई जारी है। 
चालू माह में जिले के लिए ८८० मीट्रिक टन एनपीके के लक्ष्य के मुकाबले १ हजार ५०८ मीट्रिक टन  की प्राप्ति हो चुकी है।  ७ अक्टूबर को २५० मीट्रिक टन  तथा १९ अक्अूबर को १ हजार २५८ मीट्रिक टनएनपीके की सप्लाई इफको द्वारा की गई है।