Wednesday, 13 December 2017

बेकग्राउण्ड वोइस नाम की अन्तरराष्ट्रीय कला प्रदर्शनी में योगेन्द्र के चित्र करेगें शिरकत

योगेन्द्र के चित्र इटली के नेपोली शहर मे आयोजित बेकग्राउण्ड वोइस कला प्रदर्शनी मे प्रदर्शित किये जायेंगें

Artist Yogendra Kumar Purohit बीकानेर, इटली की कला अकादमी रोमो डी ओरो के द्धारा दिनांक ७.५.२०११ को कला प्रदर्शनी बेकग्राउण्ड वोइस का प्रदर्शन इटली के नेपोली शहर से किया जायेगा ! रोमो डी ओरो कला अकादमी के संस्थापक मी.वीनसेन जो मोन्टेला इटली, ने योगेन्द्र के चित्र को न केवल प्रदर्शनी में शामिल किया है साथ ही योगेन्द्र के अपनी कला के प्रति जो वैचारीक तर्क है उस तर्क को बेकग्राउण्ड वोइस प्रदर्शनी की कैटलोग में भी प्रकाशित किया है योगेन्द्र के चित्रों के साथ।

इटली में होने वाली इस अन्तरराष्ट्रीय कला प्रदर्शनी में योगेन्द्र भारत का प्रतिनिधित्व अपने चित्रो से कर रहे हैं। इस कला प्रदर्शनी में योगेन्द्र ने अपने ड्रांईग शैली के चित्र प्रेषित किये हैं जिन्हें बेकग्राउण्ड वोइस कला प्रदर्शनी में दर्शकों द्धारा अवलोकित किया जायेगा।

दिनांक २२-५-२०११ तक चलने वाली इस कला प्रदर्शनी में योगेन्द्र के माइसेल्फ शिर्षक के चित्रों को रखा जायेगा । योगेन्द्र ने अपने इन चित्रों में जिवन की आत्म यात्रा को प्रतिकों के माध्यम से कागज पर काली स्याही ओर पेनसिल से उकेरा है।

इन चित्रों में योगेन्द्र ने अपने अन्तर मन की अनुभूतियों को जो दृश्यमान नहीं है उन अनुभूतियों को रेखा चित्र के माध्यम से दृश्यमान बनाने कि कोशिश कि है। इन चित्रों के माध्यम से योगेन्द्र ने अपने वैचारिक तर्क में लिखा है कि मैने अपने भितर के अनुभूति संसार को देख कर इन चित्रों में उकेरने का प्रयास किया है ओर इन चित्रों के माध्यम से आम दर्शक अपने अन्तर की अनुभूतियों को अनुभूत कर सकता है । 

गौर तलब बात है कि योगेन्द्र को इटली में तीन बार अन्तरराष्ट्रीय कला प्रदर्शनी में भारत की कला का प्रतिनिधित्व  करने का अवसर प्राप्त हुआ है। इससे पुर्व एशियन आवर व्यू ओर एन.ए.आई.एफ.अन्तरराष्ट्रीय कला प्रदर्शनी इटली में योगेन्द्र ने अनपे कला तर्क को चित्रों के माध्यम से रखा ओर उन चित्रो को इटली के कला प्रेमियों ने काफी सराहा।

Yogendra Purohit   Bikaner Art   Bikaner Artist