Monday, 23 October 2017

आर्ट-ई मोर में प्रदर्शित कलाओं के विभिन्न रंग

तीन दिवसीय इस प्रदर्शनी में कम्पोजिशन, पोट्रेट, लैण्ड स्केप, एड डिजाईन लोगों स्केचिंग, ऐचिंग प्रिंट, वुट प्रिन्ट मिनिएचर आदि विभिन्न कलाओं के संगम को एक छत के नीचे देख हर कोई अभियूत

बीकानेर, ब ज सि रामपुरिया जैन महाविद्यालय के फाईन आट्र्स विद्यार्थिय की प्रदर्शनी आर्ट-ई मोर में कलाओं के विभिन्न रंगो को प्रदर्शनी किया गया है। पेंटिग तथा एप्लाईट की इस संयुक्त कला प्रदर्शनी में बीएफए के छात्र-छात्राओं की एक वर्ष की कडी मेहनत ने जीवन्त रूप लेकर इस प्रदर्शनी को उच्च स्थान दिलाया है। तीन दिवसीय इस प्रदर्शनी में कम्पोजिशन, पोट्रेट, लैण्ड स्केप, एड डिजाईन लोगों स्केचिंग, ऐचिंग प्रिंट, वुट प्रिन्ट मिनिएचर आदि विभिन्न कलाओं के संगम को एक छत के नीचे देख हर कोई अभियूत है। पारम्परिक चित्र शैलियों के साथ नई तकनीक के मिश्रण को विद्यार्थियों ने बखूबी प्रदर्शन किया है जो उनके गुणवता पूर्ण प्रशिक्षण एवं कला विषय के गूढ ज्ञान को दर्शा रहा है। प्रदर्शनी के वेस्ट मेटेरियल व मिट्टी से बनाई कलात्मक अनुकृतियां भी हर किसी को अपनी और आकर्षित कर रही है। पोट्रेट में पेंसिल के साथ पेन के सुन्दर उपयोग ने पोट्रेट को और अधिक भावपूर्ण बना दिया है। विद्याकर्थयों ने फोटोग्राफी के माध्यम से लाईन व्यू फ्रेम, लैंस के कॉम्बिनेशन का भरपूर उपयोग कर एक कुशल फोटोग्राफर की छवि को अपने फोटो के माध्यम से प्रस्तुत करने का प्रयास किया है। प्रदर्शनी के अवलोकन के दौरान प्रसिद्ध कलाकारों के साथ विद्यार्थी व आमजन भी आर्ट-ई मोर को उच्च स्तरीय प्रदर्शनी का दर्जा देने से नही चूक रहे है। उत्साह, से लबरेज बीएफए के विद्यार्थी अपनी मेहनत व कला को देख प्रसन्निचत है मगर दर्शकों की कमी उन्हे खटक भी रही है। बीएफए के गुरूजन इस प्रदर्शनी में प्रदर्शित कला के विभिन्न रंगो को देख उत्साहित है व इसका प्रदर्शन अन्य स्थानों पर करने की बात कह कर आमजन से इन युवा कलाकार विद्यार्थियों को प्रदर्शनी के माध्यम से रूबरू करवाने की मंशा भी जाहीर की।

Art-e-more   Painting Exhibition   B J S Rampuria Jain College   Fine Arts   Bikaner Education