Monday, 11 December 2017

न्यू रुरल रोड मिसिंग लिंक प्रोजेक्ट मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के अनुरुप

२१ सडकों के लिए ९ करोड की स्वीकृति जारी तीन दर्जन से ज्यादा गॉव होंगे लाभान्वित आवागमन व परिवहन होगा सुगम कई गॉवों के बीच दूरियां घटेंगी

हनुमानगढ, २ नवम्बर।  हनुमानगढ जिले के ग्रामीण क्षेत्रें में  करीब तीन दर्जन गॉवों को आपसी सम्पर्को में सघनता के साथही मुख्य मार्गो , गॉवों ,स्थानों से करीबी जुडाव के लिए मिसिंग लिंक योजना के तहत नई सडकों की  सौगात से नवाजा जाएगा। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे की बजट घोषणा के अनुरुप राजस्थान राज्य कृषि विपणन बोर्ड द्वारा हनुमानगढ जिले में ‘‘ न्यू रुरल रोड मिसिंग लिंक‘‘ प्रोजेक्ट के तहत छः विधान सभा क्षेत्रें में ५८.३ किलोमीटर लम्बाई की २१ सडकों की स्वीकृति जारी की गई है।   इसके लिए ग्रामीण क्षेत्रें में कई गॉवों के बीच आवागमन सुगम होगा, दूरियों में कमी आएगी तथा काश्तकारों को फसलों को लाने  व ले जाने में कच्चे रास्तों के स्थान पर पक्की सडकें सुलभ होगी। कृषि विपणन बोर्ड द्वारा जारी स्वीकृति के अनुसार इस प्रोजेक्ट पर ९०० लाख रुपए खर्च होंगे। इसके तहत भादरा विधान सभा क्षेत्र में दो, हनुमानगढ में चार, टिब्बी में छः, नोहर में तीन, पीलीबंगा में दो तथा संगरिया विधानसभा क्षेत्र में चार सडकों की स्वीकृति जारी की गई है।
‘‘ न्यू मिसिंग लिंक प्रोजेक्ट‘‘
राज्य सरकार के  वर्ष २००७-०८ के बजट में मुख्यमंत्री ने मिसिंग लिंक सडक निर्माण योजना के तहत पूरे राज्य में आगामी दो वर्षो में २००० किलोमीटर सडकों का निर्माण एवं इस पर ३०० करोड रुपए के व्यय का प्रावधान किया हैं। इसके तहत जिले के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में सम्बन्धित विधायक की अनुशंषा पर इस वर्ष १.५ करोड रुपए की स्वीकृति जारी की गई है।  कृषि विपणन बोर्ड  के अधिशाषी अभियन्ता श्री शंकरलाल शर्मा ने बताया  कि जिले में इन मिसिंग लिंक कि निर्माण के लिए निविदाएं आमंत्रित की जा चुकी है।
कहां -कितनी सडकें
इस प्रोजेक्ट के तहत भादरा विधानसभा क्षेत्र में सागडा  से सवाई छानी के बीच ५ किलोमीटर मिसिंग लिंक के लिए ७१ लाख तथा लखनबास से गढीछानी के बीच ५ किलोमीटर मिसिंग लिंक के लिए ७९ लाख रुपए की स्वीकृति जारी की गई है। 
हनुमानगढ विधानसभा क्षेत्र में चक ३२ एसएसडब्ल्यू से ३२ एनडीआर ढाणी दूधवाली के बीच २.१ किलोमीटर मिसिंग ल्ंाक के लिए ३३ लाख, २६ एसएसडब्ल्यू से ३० एसएसडब्ल्यू के बीच ३.३ किलोमीटर के लिए ५२ लाख, चिश्तियां से हिरणावाली के बीच ३.३ किलोमीटर के लिए ४९ लाख तथा कीकरवाली से धौलीपाल मेन रोड तक १.२५ किलोमीटर  मिसिंग लिंक के लिए १६ लाख रुपए स्वीकृत किए गए है। 
इसी प्रकार टिब्बी विधानसभा क्षेत्र में  हनुमानगढ-टिब्बी रोड से संगरिया-टिब्बी बाईपास रोड तक १ किलोमीटर  मिसिंग लिंक के लिए १४ लाख, मेहरवाला से ३ केएसपी के बीच २.७५ किलोमीटर के लिए ४१.०० लाख, ९ डीडब्ल्यूएम  से न्यौलखी रोड तक १.७५ किलोमीटर के लिए २७ लाख ६५ हजार, हनुमानगढ से मोधूनगर रोड तक १.२५ किलोमीटर के लिए १९ लाख ७५ हजार, रावतसर-जाखडावाली रोड से माधूनगर रोड तक २ किलोमीटर के लिए ३१ लाख ६० हजार तथा रावतसर-जाखडावाली रोड से भाखरांवाली मोधूनगर रोड वाया कुम्हारोंवाली ढाणी तक १.१ किलोमीटर के लिए १६ लाख रुपए की स्वीकृति जारी की गई है। 
नोहर विधानसभा क्षेत्र में दीपलाना से करौती के बीच १.६ किलोमीटर  मिसिंग लिंक के लिए २५ लाख २० हजार, टिडियासर से पुनसीसर (चुरु जिले की सीमा तक) ३.५ किलोमीटर के लिए ५५.३० लाख तथा कर्मसाना से डूमासर तक ४.४ किलोमीटर  मिसिंग लिंक के लिए ६९ लाख ५० हजार रुपए स्वीकृत हुए है। 
पीलीबंगा विधानसभा क्षेत्र में १ डीबीएन से २६ एमओडी तक  ५ किलोमीटर  के लिए ७९ लाख तथा मानेवाला से कीकरवाली जौहडी तक ४.५ किलोमीटर तक  मिसिंग लिंक के लिए ७१.०० लाख रुपए की राशि स्वीकृत की गई है।  इसी प्रकार संगरिया विधासभा क्षेत्र में ताखरांवाली से थंडेवाला तक १ किलोमीटर के लिए १५ लाख ७० हजार, सूरेपूरा कोठी से  केरा चक रोड तक १.७५ किलोमीटर के लिए २७ लाख ६५ हजार, कीकर चक  से लालगढ मेन रोड १.७५ किलोमीटर के लिए २७ लाख ६५ हजार एवं ढाबा गांव से ३६ आरडी   तक ५ किलोमीटर  मिसिंग लिंक के लिए ७९ लाख रुपए की स्वीकृति जारी की गई है।