Wednesday, 18 October 2017

बैंको में रही हड़ताल, करोड़ो का लेने देन हुआ ठप्प

बैकों की हडताल के कारण आमजन पेंशनर व व्यावारी वर्ग हुआ परेशान

बीकानेर, बैकिंग क्षेत्रों में सुधारों के प्रस्ताव के विरोध में राष्ट्रव्यापी आहवान के तहत शुक्रवार को जिले में राष्ट्रीयकृत बैकों में हडताल  रही। हडताल के कारण बैकों में ताले नही खुले व करोडों का लेन-देन ठप्प रहा। बैकों की हडताल के कारण आमजन पेंशनर व व्यावारी वर्ग परेशान हुआ। यूएफबीयू से सम्बद्ध नौ संगठित यूनियनों की हडताल में बैकों के अधिकारी व कर्मचारी सभी शामिल हुए। एक दिवसीय हडताल के दौरान बैंक कर्मियों ने रेलवे स्टेशन से कलेक्ट्रेट तक रैली निकालकर बैकिंग क्षेत्रों में सुधारों के प्रस्ताव का विरोध कर बैकों में ठेका प्रथा व निजिकरण को नौकरी देने, देशभर में बैकों मे रिक्त लगभग एक लाख पदों पर भर्ती करने, केन्द्रीय कर्मखरियों के समान पेंशन योजना का लाभ देने ग्रामीण बैकों को पुर्नगठन करने बैकों में पांच दिवसीय कामकाज सप्ताह शुरू करने आदि की मांग की गई । रैली के साथ कलेक्ट्रट पंहुचकर बैक कर्मियों ने प्रदर्शन कर लम्बित मांगों के निस्तारण की मांग की । बैक कर्मचारी नेता कॉ  वाई के शामा्र के नेतृत्व में बैक कर्मियों ने प्रदर्शन कर केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की । इस अवसर पर कॉ वाई के शर्मा ने कहा कि अगर केन्द्र सरकार ने बैक कर्मियों की जायज मांगों को नही माना तो बैक कर्मचारी बैकों पर अनिश्तिकाल के लिए भी ताले ढक सकते है।

Bank Strikes   UFBU   Y K Sharma