Monday, 23 October 2017

व्यापारीयो के साथ कुठाराधात सहन नही . कोचर

बीकानेर रेडीमेड व होजयरी एसोसिएशन ने बढ़ाई गई टैक्स दरें वापिस लेने की मांग को लेकर व्यापारीयों ने आज दुसरे दिन भी कचहरी परीसर में  अपना धरना जारी रखा। व्यापार मंडल के सचिव कन्हैयालाल बोथरा ने कहा 14  प्रतिशत वैट पूरे भारत में कही भी नही है। लेकिन राजस्थान सरकार ने पूरे राजस्थान में रेडीमेड गारमेंट पर 4 प्रतिशत की बजाय 14 प्रतिशत वैट टैक्स लगा दिया है जिससे व्यापारियों और आम उपभोक्ताओं पर अतिरिक्त बोझ बढ़ गया है। पूरे  राजस्थान में सीधे 10 प्रतिशत वैट बढ़ाकर सरकार ने इस व्यापार के पनपने की सभी संभावनाएं समाप्त कर दी हैं। उन्होने कहा कि अगर वैट कि दरों में कमी नही कि गई तो कालाबाजारी बढ जायेगी । किसान नेता बल्लभ कोचर ने धरने को सम्बोधित करते हुये कहा जिस प्रकार से सरकार ने व्यापारीयो के साथ  कुठाराधात किया है उसको किसी प्रकार से सहन नही किया जायेगा। अगर सरकार ने व्यापारीयो के साथ न्याय नही किया तो सरकार को इसका खामियाजा भुगतना पडेगा।  आज व्यापारियों ने निर्णय लिया है कि जब तक वैट दरें कम नहीं होंगी तब तक व्यापारी सरकारी खजाने में टैक्स जमा नहीं करवायेंगे। फोर्टी के सचिव दिलीप भाई पारीख पुन: सरकार से व्यापारियों एवं आम जनता के हितों को ध्यान में रखते हुए वैट दरें वापस लेने की मांग की।
 

 

Bikaner Readymade Garment   VAT   Rajasthan