Thursday, 14 December 2017

तीन दिवसीसय ऊंट का हुआ आगाज

लाडेरा के धोरों पर भी होंगें कई कार्यक्रम

बीकानेर, तीन दिवसीय अन्तरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव का भव्य, आकर्षक व रंगारंग आगाज़ बुधवार को शोभा यात्रा के साथ हुआ। संभागीय आयुक्त आनन्द कुमार ने हरी झण्डी दिखाकर शोभा यात्रा का विधिवत् शुभारंभ किया।

जिला कलक्टर आरती डोगरा व देशी-विदेशी सैलानियों की साक्षी में आयोजित शोभा यात्रा में बड़ी संख्या में आमजन की भी भागीदारी रही। रतन बिहारी पार्क से शुरू हुई शोभा यात्रा सार्दुल सर्किल,जूनागढ़ होते हुए डाॅ.करणी सिंह स्टेडियम पहुंची। शोभा यात्रा में 100 के लगभग सजे-धजे ऊंटों पर राजस्थानी वेशभूषा पहने व  हाथों में तलवार लिए रोबीले  सवार थे। शोभा यात्रा में अनेक विदेशी सैलानी मोटर साईकिलों पर सवार थे,वहीं तांगों पर  भी  विदेशी सैलानी राजस्थानी वेशभूषा मंे बैठे हुए थे और उपस्थित जन समूह के आकर्षण का केन्द्र बने हुए थे । अनेक विदेशी सैलानी हाथ जोड़कर भारतीय परम्परा के अनुसार नमस्कार का उच्चारण कर,भीड़ का अभिवादन कर रहे थे।

ऊंट गाडों पर लोक कलाकार अपने लोक वाद्यांे चंग,ढा़ेल,नगाडे़,पूंगी आदि की मधुर स्वर लहरियां बिखेरते हुए आमजन का मनोरंजन कर रहे थे। पंजाबी पहनावे में नर्तकों का समूह भंागड़ा नृत्य और पाईप बैण्ड की प्रस्तुति दे  रहा था,वहीं राजस्थानी परिधानों में सजी ं लोक कलाकार कालबेलिया नृत्य कर रही थीं। शोभा यात्रा में अनेक सामाजिक संगठनों के कार्यकर्ता,एन.एस.एस.व एन.सी.सी.के कैडेट्स बैनर लिए चल रहे थे। इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर ़(प्रशासन) के.एम.दूड़िया,अतिरिक्त जिला कलक्टर (नगर) दुर्गेश बिस्सा,उपखण्ड अधिकारी अनुपमा जोरवाल,भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारी विक्रम जिन्दल,नगर विकास न्यास के सचिव अरूण शर्मा,पर्यटन विभाग के सहायक निदेशक उपेन्द्र सिंह शेखावत,कैप्टन बी.एस.राठौड़,सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे। 

 

Camel Festival 2014