Friday, 19 July 2019
khabarexpress:Local to Global NEWS
  2628 view   Add Comment

ऊंट उत्सव 18 जनवरी से

बीकानेर। वर्ष 2011 में होने वाले ऊंट उत्सव की तिथियां घोषित कर दी गई हैं। तीन दिवसीय उत्सव 18 जनवरी से 20 जनवरी तक होगा। इनमें दो दिन कार्यक्रम लाडेरां में होंगे। इस संबंध में शुक्रवार को जिला कलक्टर की अध्यक्षता में कलक्टर सभागार में जिला पर्यटन विकास स्थायी समिति की बैठक हुई। इस अवसर पर उत्सव में होने वाले कार्यक्रमों को तय किया गया। बैठक में लाडेरां में विकास कार्यों को लेकर 90 लाख रूपए के प्रस्ताव पारित हुए। जिन्हें राज्य सरकार को भेजा जाएगा। ऊंट उत्सव में 18 जनवरी को दोपहर 12.30 से 1.20 बजे तक जूनागढ से डॉ. करणी सिंह स्टेडियम तक शोभायात्रा, दोपहर 1.30 बजे करणीसिंह स्टेडियम में उत्सव का उद्घाटन, दोपहर 2 से 2.15 बजे तक सीमा सुरक्षा बल के ऊंटों का करतब, दोपहर 2.20 से 3 बजे तक करणीसिंह स्टेडियम में मिस बीकाणा व श्रीमती बीकाणा प्रतियोगिता, दोपहर 3.10 से 4 बजे तक ऊंट नृत्य प्रतियोगिता, शाम 4 से 4.35 बजे तक ऊंट श्रंृगार प्रतियोगिता, शाम 4.35 से 5 बजे तक बाल कतराई प्रतियोगिता व शाम 7 से रात्रि 10 बजे तक सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे।  उत्सव में 19 जनवरी को सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक रायसर से लाडेरां तक ऊंट सफारी प्रतियोगिता, पूर्वान्ह11 बजे से जूनागढ के सामने से लाडेरां के लिए प्रस्थान, दोपहर 12 से 1 बजे तक लाडेरां में ग्रामीण कुश्ती प्रतियोगिता, दोपहर 1 से 2 बजे तक लाडेरां में ग्रामीण कबड्डी प्रतियोगिता, दोपहर 2 से 2.30 बजे तक लाडेरां में महिला मटका फोड प्रतियोगिता, दोपहर 3 से 4 बजे तक लाडेरां में मोटर बाईक रेस प्रतियोगिता होगी। वहां शाम 5 से 7.30 बजे तक सांस्कृतिक कार्यक्रम व रात्रि 7.30 से 8.30 बजे तक अग्नि नृत्य होगा। इसी तरह 20 जनवरी को सुबह 10 से दोपहर 12 बजे तक सेरूणा से लाडेरां तक कच्चे मार्ग पर वाहन रेस प्रतियोगिता, दोपहर 1 से 2 बजे तक लाडेरां में खो-खो प्रतियोगिता, दोपहर 2 से 2.30 बजे तक महिला म्यूजिकल चेयर शो, दोपहर 2.30 से 3 बजे तक महिला मटका दौड प्रतियोगिता, दोपहर 3 से 3.30 बजे तक रस्सा कस्सी प्रतियोगिता, दोपहर 3.30 से शाम 4.30 बजे तक ऊंट दौड प्रतियोगिता, शाम 5 से 7.30 बजे तक सांस्कृतिक कार्यक्रम, रात्रि 7.30 से 8.30 बजे तक अग्नि नृत्य तथा रात्रि 8.30 से 9 बजे तक आतिशबाजी होगी। पर्यटन विभाग बीकानेर के सहायक निदेशक हनुमान मल आर्य ने बताया कि इस बार ऊंट उत्सव में कई नई प्रतियोगिताएं होंगी। जो देशी व विदेशी पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र रहेगी। इनमें रायसर से लाडेरां तक केमल सफारी, मिसेज बीकाणा प्रतियोगिता, धोरों पर मोटरसाइकिल रेस, सेरूणा से लाडेरां तक कच्चे मार्ग पर चार पहियों के वाहनों की रेस को शामिल किया गया है। विदेशी पर्यटकों को लुभाने के लिए मेले में 15 से 20 खाने-पीने की दुकानें, मेहंदी मांडणा, राजस्थानी वेशभूषा की दुकान मय फोटोग्राफर, राजस्थानी व्यंजनों की प्रदर्शनी तथा ग्रामीण क्षेत्र के उपयोग में आने वाले उत्पादों की दुकानें लगेंगी।

Share this news

Post your comment