Monday, 11 December 2017

लाडेरा में ऊंटों की दौड से मस्त हुए सैलानी

बीकानेर सोनलिये धोरों पर रेगिस्तानी जहाजों ने जब दौड लगाई तो देशी-विदेशी पर्यटक किसी भी क्षण को कैमरे में कैद करने को नहीं चूक रहे थे।धोरों पर बैठे दर्शकों ने समूचे माहौल को और रंगीन बना दिया। ऊंट उत्सव के दूसरे दिन पर्यटकों का जमावडा लाडेरा गांव में था जहां न सिर्फ ऊंट अपने सबाब में थे बल्कि ग्रामीण पुरुष व महिलाएं प्रतियोगिताओं में जोर अजमाईश कर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाने में पीछे नहीं रही।  कार्यक्रम के दौरान ग्रामीण युवकों के दल में कब्बडी, प्रतियोगिता सम्पन्न हुई। जिसे देख अनेक विदेशी पर्यटकों ने इस खेल की सराहना करते हुए वॉट एक प्ले कहा और युवाओं की प्रशंसा की। राजस्थानी संस्कृति की छटा विखरते कलाकारों ने राजस्थानी वाद्ययंत्रों की मीठी स्वर लहरियों के बीच जो गीत प्रस्तुत किए उससे सभी मंत्र मुग्ध हो गये। इस मौके पर कुश्ती प्रतियोगिता व प्रतियोगिता का आयोजन भी हुआ। जिसमें ग्रामीणों व पर्यटकों ने बढ-चढकर हिस्सा लिया। सुसज्जित ऊंटों की दौड पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र रही। लाडेरा गांव केउत्साही ग्रामीणों ने अपने घरों के बाहर रंगोली तथा मांडने का चित्राकंन किया जिसे सैलानियों ने दिलचस्पी से देखा। ग्रामीण महिलाओं ने विदेशियों के आगमन को यादगार बनाने के लिए मांगलिक गीत गा कर उनका स्वागत किया। इस स्वागत सत्कार से देश-विदेश के कोने कोने से आये पर्यटक भाव-विभोर हो    गये।ऊंट उत्सव के दूसरे दिन गांव लाडेरा में स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एण्ड जयपुर अस्पताल मार्ग शाखा द्वारा मोबाइल बैंक विदेशी विनिमय काउंटर लगाया गया। जिसमें बैंककर्मियों द्वारा विभिन्न देशों से आये विदेशी सैलानियों को विदेशी मुद्रा विनिमय की सुविधा प्रदान की गई। इस दौरान लगभग तीन हजार रूपये की विदेशी मुद्रा भारतीय मुद्रा में परिवर्तित की गई।

camels