Sunday, 15 December 2019
khabarexpress:Local to Global NEWS
  4878 view   Add Comment

अन्तर्राष्ट्रीय ऊंट उत्सव 8 जनवरी से

ऊंटों की होगी प्रतियोगिताऐं

बीकाने, मरु शहर बीकानेर मे 8 से 10 जनवरी तक तीन दिवसीय अन्तर्राटष्ट्रीय ऊंट उत्सव में भाग लेने केलिए देशी-विदेशी पर्यटक भी बीकानेर पंहुचेंगें। पर्यटन विभाग के सहायक निदेशक हनुमानमल आर्य के अनुसार ऊंट उत्सव का आगाज 8 जनवरी से फोर्ट स्कूल मैदान से जूनागढ तक निकाली जाने वाली शोभायात्रा के साथ होगा। शोभायात्रा मे देशी विदेशी पर्यटकों के साथ रणबांकुरे, लोक कलाकार, उंटों के काफिले के साथ शामिल होंगें। ऊंट उत्सव का विधिवत उद्घाटन डॉ. करणी सिंह स्टेडियम मे होगा। इस अवसर पर विभिन्न प्रतियोगिताऐं के आयोजन होंगें। मिस मरवण, मि.बीकाणा, ऊंट श्रृंगार, ऊंट बाल कतराई, ऊंटनी दुहने, ऊंट नृत्य प्रतियोगिताओं के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन होगा। सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रदेश के ख्यातनाम कलाकार गीत व नृत्यों की प्रस्तुतिया देंगें।

Camel Festival 2012 is going to be held from 8th January 2012 at Karni Singh Stadium ऊंट उत्सव के दूसरे व तीसरे दिन नजदीकी गांव लाडेरा मे प्रतियोगिताएं एवं अन्य आयोजन होंगें। आर्य ने बताया कि 9 जनवरी को लाडेरा मेला मैदान में ऊंट सफारी, ग्रामीण कुश्ती, ग्रामीण कब्बडी, महिला मटका फोड धोरा दौड प्रतियोगिताओं के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं अग्नि नृत्य का आयोजन होगा। दस जनवरी को लाडेरा मिला मैदान में खो-खो पुरूष एवं महिला, महिला म्यूजिकल चेयर शो, महिला मटका दौड, ऊंट दौड प्रतियोगिताओं के आयोजन होंगें। इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम, अग्नि नृत्य तथा भव्य आतिशबाजी का भी आयोजन होगा।

मेहन्दी मांडणा व बाजरा रोटी बनाने की प्रदर्शनी
अन्तर्राष्ट्रीय ऊंट उत्सव के दौरान लाडेरा गांव मे देशी विदेशी महिलाओं के हाथों पर मेन्दी मांडणा तथा बाजरे की रोटी बनाने का प्रदर्शन प्रदर्शन भी किया जायेगा। आर्य ने बताया कि देशी विदेशी महिलाओं के हाथों पर पारम्परिक मेहन्दी मांडणे चित्रित कर राजस्थान की इस कला परम्परा से उनको रूबरू करवाया जायेगा।


विजेताओं को मिलेंगें नगद पुरस्कार
अन्तर्राष्ट्रीय ऊंट उत्सव के अवसर पर आयोजित होने वाली विभिन्न प्रतियोगिता के विजेताओं को नगद पुरस्कारों से सम्मानित किया जाएगा। सहायक निदेशक आर्य के अनुसार मिस मरवण व मिस्टर बीकाणा प्रतियोगिता मे प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर रहने वाले विजेताओं को क्रमशः पाँच हजार, तीन हजार व दो हजार रूपये पुरस्कार स्वरूप नकद राशि दी जायेगी। ऊंट श्रृंगार, ऊंट बाल कतराई, ऊंटनी दुहने, ऊंट नृत्य में प्रथम तीन विजेताओं को क्रमशः सात, पाँच व तीन हजार रूपये पुरस्कार नकद राशि, ऊंट सफारी मे पाँच, तीन व दो हजार, ग्रामीण कुश्ती व कबड्डी मे ७ हजार व तीन हजार महिला मटका फोड, धोरा दौड, खो-खो, म्युजिकल चेयर, महिला मटका दौड मे प्रथम तीन विजेताओं को क्रमश इक्कीस सौ, ग्यारह सौ व पॉच सौ रूपये तथा ऊंट दौड प्रतियोगिता मे प्रथम तीन विजेताओं को क्रमश सात हजार, पॉच हजार व तीन हजार रूपये के नकद पुरस्कार स्वरूप प्रदान किये जायेगें। 
 

Share this news

Post your comment