Sunday, 22 October 2017

बागियो ने बिगाडे समीकरण

टिकट वितरण के बाद से ही बागियो के उठते रहे स्वरो के बीच

बीकानेर। छात्र संघ चुनावो में इस बार तीनों ही छात्र संगठनो को बागियो ने नुकसान पहुचाया। टिकट न मिलने पर निर्दलीय प्रत्याशियो के रूप में खडे हुए बागियो के कारण तीनों ही छात्र संगठनो के समीकरण बिगड गये। हालंकि बिगडे समीकरणो में एन.एस.यू.आई. ने कुछ स्थानो पर अध्यक्ष पद हथिया कर लाज बचा ली। परन्तु एबीवीपी व एस.एफ.आई. बैकफुट पर चली गई। डूगर कालेज में एनएसयूआई से जुडे रहे अमित चोधरी ने अपने ही संगठन प्रत्याशी के खिलाफ निर्दलीय के रूप में जीत दर्ज कर एनएसयूआई को झटका दिया। वही एसएफआई यहां अध्यक्ष पद का ताज अपने ही कार्यकर्ताओं के निर्दलियो के साथ चले जाने से बचा नही पाई। 

एबीवीपी राजकीय ला कालेज को छोडकर अन्य किसी कालेज में शानदार प्रदर्शन नही कर पाई। टिकट वितरण के बाद से ही बागियो के उठते रहे स्वरो के बीच कार्यकर्ताओ में हुए फाड के चलते जिन परिणामो की आशंका चल रही थी लगभग वे ही सामने आऐ। बागियो के चलते बिगडे समीकरण का आलम यह रहा कि तीनों छात्र संगठनो की उपस्थिति के बावजूद एमजीएस वि.वि.का अध्यक्ष पद निर्दलीय के पास चला गया। बिन्नाणी, बेसिक, रामपुरिया जैन, सहित विभिन्न कालेजो में इस बार बागियो के चलते समीकरण बिगडे।
 

Rampuria Jain   Binnani