Wednesday, 18 October 2017

खनिज विषयक कार्यशाला सम्पन्न

दक्षिण स्वीट्जरलैण्ड की तकनीकी विश्वविद्यालय के प्रोफेसर जुवानी कारवेलो ने इस क्षेत्र में हो रहे शोध के बारे में प्रकाश डाला

बीकानेर, डूंगर महाविद्यालय के प्रताप सभागार में ‘भारतीय व यूरोपीय पारम्परिक कला में खनिजों के गुण व अनुप्रयोग’ विषयक कार्यशाला का समापन हुआ। भू-विज्ञान विभाग के वरिष्ठ संकाय सदस्य डॉ.शिशिर शर्मा ने बताया कि कार्यक्रम में दक्षिण स्वीट्जरलैण्ड की तकनीकी विश्वविद्यालय के प्रोफेसर जुवानी कारवेलो ने इस क्षेत्र में हो रहे शोध के बारे में प्रकाश डाला। राजस्थान विश्वविद्यालय के भू-विज्ञान विभाग के प्रोफेसर एमके पण्डित ने पारम्परिक कला के संवर्धन एवं संरक्षण में प्राकृतिक खनिजों के उपयोग पर प्रकाश डाला। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ जीडी शर्मा ने कहा कि इस कार्यशाला से बीकानेर खनिज उद्योग को खनिजों के नवीनतर उपयोगों के बारे में नई दिशा मिली है। महाविद्यालय के भू-विज्ञान के अध्यक्ष डॉ सतीश कौशिक ने प्रतिभागियों तथा अतिथियों का स्वागत किया तथा डॉ अरूण शांडिल्य ने आगन्तुकों का धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ एके यादव ने किया।
Switzerland's Professor Juvani Karvello during Minerals workshop held at Dunger College, Bikaner
 

Mineral   Bikaner Minerals   Dunger College   Dr Satish Kaushik   Geology   Rajasthan University   Dr Shis