Tuesday, 12 December 2017

रामपुरिया जैन विधि महाविद्यालय में शुरू हुआ नया डिप्लोमा टैक्सेशन लॉ

पाठ्यक्रम में प्रवेश हेतु पात्रता बीकॉम, एमकॉम, एमबीए व एलएलबी

बीकानेर, रामपुरिया जैन विधि महाविद्यालय में बुधवार से रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम डिप्लोमा इन टैक्सेशन लॉ का शुभारम्भ हुआ। महाविद्यालय परिसर में आयोजित समारोह में मुख्य अतिथि राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष डॉ बीडी कल्ला ने अध्यक्षता,  महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ गंगाराम जाखड विशिष्ट अतिथि टैक्स एसोसियेशन के अध्यक्ष जेडी चूरा, राजस्थान बार कौंसिल के सदस्य एडवोकेट कुलदीप शर्मा व बीकानेर बार एसोसियेशन के अध्यक्ष एडवोकेट सुरेन्द्र पाल शर्मा ने पाठ्यक्रम के फोल्डर का विमोचन किया। इस अवसर पर डॉ बीडी कल्ला ने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ आत्म निर्भरता जरूरी है। रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम के माध्यम से आत्म निर्भरता संभव है। रामपुरिया महाविद्यालय में इस पाठ्यक्रम के प्रारम्भ होने से निःसंदेह युवाओं को लाभ होगा। महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ गंगाराम जाखड ने कहा कि विश्वविद्यालय निरन्तर विकास के पथ पर पथारूढ है। विश्वविद्यालय में यूनिट, फैकल्टी बढाने के साथ साथ अन्य व्यवस्थाओं में तेजी से विकास हो रहा है जिनका लाभ छात्रों को मिलेगा। समारोह को एडवोकेट एसएल हर्ष, प्रों अशोक आचार्य आदि ने भी संबोधित किया। विश्वविद्यालय प्राचार्य डॉ विट्ठल बिस्सा ने अतिथियों का स्वागत करते हुए बताया कि डिप्लोमा इन टैक्सेशन लॉ एक वर्षीय रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम है। इस पाठ्यक्रम में प्रवेश हेतु पात्रता बीकॉम, एमकॉम, एमबीए व एलएलबी है।  

Rampuria Jain College   Law Courses   Ganga Ram Jhakhad   Shankar Lal Harsh   Bitthal Bissa