Wednesday, 19 June 2019
khabarexpress:Local to Global NEWS
  513 view   Add Comment

‘प्रोसेसिंग एंड वेल्यू एडिशन आॅफ एरिड फूड्स’ विषयक प्रशिक्षण प्रारम्भ

शिक्षण में गृह विज्ञान तथा कृषि महाविद्यालय और आइएबीएम के पचास विद्यार्थी भाग ले रहे हैं।

‘प्रोसेसिंग एंड वेल्यू एडिशन आॅफ एरिड फूड्स’ विषयक प्रशिक्षण प्रारम्भ

बीकानेर, 11 फरवरी। स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय के गृह विज्ञान महाविद्यालय में ‘प्रोसेसिंग एंड वेल्यू एडिशन आॅफ एरिड फूड्स’ विषयक सात दिवसीय प्रशिक्षण सोमवार को प्रारम्भ हुआ। यह प्रशिक्षण भारतीय कृषि प्रबंधन संस्थान (आइसीएआर) की राष्ट्रीय कृषि उच्च शिक्षा परियोजना (एनएएचइपी) के तहत विश्वविद्यालय  के खाद्य एवं पोषण विभाग द्वारा आयोजित किया जा रहा है।
 गृह विज्ञान महाविद्यालय की अधिष्ठाता डाॅ. दीपाली धवन ने बताया कि 17 फरवरी तक चलने वाले इस प्रशिक्षण में गृह विज्ञान तथा कृषि महाविद्यालय और आइएबीएम के पचास विद्यार्थी भाग ले रहे हैं। एनएएचइपी के प्रोजेक्ट प्रभारी तथा कृषि महाविद्यालय के अधिष्ठाता डाॅ. आई. पी. सिंह ने बताया कि सात दिवसीय प्रशिक्षण के दौरान विभिन्न विषय विशेषज्ञों द्वारा शुष्क क्षेत्र के उत्पादों के प्रसंस्करण एवं मूल्य संवर्धन के संबंध में मार्गदर्शन दिया जाएगा।
  प्रोजेक्ट की सहायक प्रभारी डाॅ. मंजू राठौड़ ने बताया कि पहले दिन डीन (पीजीएस) डाॅ. विमला डुकवाल ने खाद्य संरक्षण के सिद्धांत एवं तरीके तथा डाॅ. मधु गोयल ने शुष्क भोजन का मूल्य संवर्धन विषय पर व्याख्यान दिया। इस दौरान खाद्य संरक्षण में आने वाली व्यावहारिक कठिनाईयों एवं इनके निराकरण के बारे में बताया गया। ममता विश्नोई ने आंवला अचार का प्रदर्षन किया तथा आंवले के गुणों के बारे में बताया।

Share this news

Post your comment