Tuesday, 12 December 2017

छात्राओं ने सीखे उद्यमिता के गुर

बीकानेर शिक्षण संस्थाओं में उद्यमिता विकास हेतु दूरदर्शिता एवं व्यूहरचना का विकास करने, विद्यार्थियों में उद्यमिता विकास का सृजन करने, व्यापार व उद्यमिता में अंतर कर उद्यमिता के तत्वों को समझाने सहित उद्यमिता विकास के उद्देश्य से अभियांत्रिकी महाविद्यालय के नवाचार एवं उद्यमिता विकास केन्द्र द्वारा उद्यमिता जागरूकता शिविर का उद्घाटन बुधवार को बिन्नानी कन्या महाविद्यालय में किया गया। इस अवसर पर इंजीनियरिंग कॉलेज के प्राचार्य प्रो.अनिल पूनिया, बिन्नानी कन्या महाविद्यालय प्रबंध समिति के सचिव गौरीशंकर व्यास व प्राचार्य डॉ.पी.आर. जोशी ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उद्घाटन अवसर पर छात्राओं को संबोधित करते हुए प्रो.पूनिया ने कहा कि बीकानेर संभाग व इससे जुडे क्षेत्रों के लोगों ने विश्व स्तर पर उद्योग जगत में अपनी अनूठी पहचान बनाई है, लेकिन दुर्भाग्य की बात है कि आज बीकानेर संभाग व इसके इर्द गिर्द के क्षेत्रों में उद्यमिता के गुर सिखाने की संस्था तक नहीं है, जिसके चलते यहां नये उद्यमियों को व्यवसाय में खास परेशानी आ रही है। 

उन्होंने छात्राओं से आह्वान किया कि वे इस कार्यक्रम के जरिये उद्यमिता विकास के गुर सीखकर अपना उद्योग लगावें ताकि बीकानेर को अनूठी पहचान मिल सके। गौरीशंकर व्यास ने कहा कि भारत सरकार • विज्ञान एवं तकनीकी विभाग द्वारा संचालित ईडीआई अहमदाबाद ने इंजीनियरिंग कॉलेज को उद्यमिता जागरूकता शिविर की जो जिम्मेदारी सौंपी है वह निश्चित रूप से शहर के लिये गोरव की बात है। इसी के अन्तर्गत बुधवार को सुबह ११ बजे बिन्नानी कॉलेज से शिविर की शुरूआत की गई है। बिन्नानी कॉलेज प्राचार्य पी.आर. जोशी ने छात्राओं से शिविर का लाभ अधिकाधिक उठाने की बात कही। शिविर के समन्वयक डॉ.गिरीराज किराडू ने बताया कि इन शिविरों में विज्ञान, अभियांत्रिकी, पोलिटैक्निक, आई.टी.आई. तथा प्रबंध आदि संकायों के अंतिम वर्ष में अध्ययनरत विद्यार्थियों को प्रशिक्षित किया जायेगा कि वो किस प्रकार अपने अंदर छिपी प्रतिभा को पहचानकर स्वरोजगार का प्राप्त कर सके। इन शिविरों में पेशे व व्यापार से जुडे विभिन्न घटकों पर दक्ष वक्ताओं द्वारा प्रकाश डाला जायेगा। डा.किराडू ने शिविर के उदेश्यों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि विज्ञान एवं तकनीकी आधारित छात्रों म नवाचार एवं त्रियाशीलता की खोज कर उन्हें विकास की मुख्यधारा से जोडना है। शिविर के दौरान जिला उद्योग केन्द्र, रीको, राजस्थान वित्त निगम, विज्ञान व तकनीकी विभाग जयपुर के अलावा देश के ख्यातनाम संस्थाओं के दक्ष विशेषज्ञों द्वारा महत्वपूर्ण जानकारी दी जायेगी।
 

Giriraj Kiradoo   M P Punia   Entrepreneurship Camp