Friday, 20 October 2017

जिला परिषद वार्षिक योजना बैठक में वर्ष 872.27 करोड रुपए के अनुमोदन

जिला प्रमुख रामेश्वर डूडी की अध्यक्षता में शुक्रवार को जिला परिषद के सभा कक्ष में हुई जिला आयोजना समिति व जिला परिषद की साधारण सभा की बैठक में बीकानेर जिले की वार्षिक योजना वर्ष 2011-12 के लिए 872.27 करोड रुपए के प्रावधान के प्रारुप का अनुमोदन किया गया।

बीकानेर, जिला प्रमुख रामेश्वर डूडी की अध्यक्षता में शुक्रवार को जिला परिषद के सभा कक्ष में हुई जिला आयोजना समिति व जिला परिषद की साधारण सभा की बैठक में बीकानेर जिले की वार्षिक योजना वर्ष 2011-12 के  लिए 872.27 करोड रुपए के प्रावधान के प्रारुप का अनुमोदन किया गया। योजना में राज्य सरकार द्वारा राज्य मद में 400.83  करोड व केन्द्र प्रवर्तित मद में 471.44 करोड का प्रावधान किया गया।


बैठक में उप जिला प्रमुख नारूराम मेघवाल, बीकानेर पंचायत समिति के प्रधान भोमराज आर्य, कोलायत की प्रधान श्रीमती राम प्यारी बिश्नोई, नोखा की प्रधान श्रीमती शारदा बिश्नोई व श्रीडूंगरगढ के प्रधान भागूराम सहू, जिला परिषद सदस्य व आयोजना समिति के सदस्य,  जिला कलक्टर डॉ. पृथ्वीराज, अतिरिक्त कलक्टर नगर राजेन्द्र मिश्रा व विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे। 

साधारण सभा की बैठक में जिला प्रमुख रामेश्वर डूडी ने  कहा कि जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग गर्मी के मौसम को देखते हुए जिले के बंद ट्यूबवैल को तत्काल ठीक करवावें। बिजली, पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं के लिए अधिकारी अपनी जिम्मेवारी की पालना सही तरीके से करें। जिन गांवों में फलोराइड युक्त व मिट्टी से युक्त पानी आ रहा है उनकी जांच करवाकर शुद्घ पेयजल की आपूर्ति की व्यवस्था करें। जिन गंावों में पेयजल की केोई स्कीम नहीं है वहां स्कीम बनाई जाए तथा वैकल्पिक तौर पर टेंकर के जरिए ग्रामीणों को पानी मुहैय्या करवाया जाए।  

जिला प्रमुख डूडी ने कहा कि जनता के सामने जो कमिटमेंट करें उन पर खरा उतरें। जनता के सामने झूठ नहीं बोले तथा उनके सामने वास्तविक स्थिति को रखते हुए जन समस्याओं को समयबद्घ तरीके से हल कर आम लोगों को राहत दिलाएं। किसान व जन प्रतिनिधियों को मूलभूत समस्याओं के निराकरण के लिए विभाग के चक्कर नहीं लगाने पडें।  गांवों में बिजली, पानी, शिक्षा, चिकित्सा आदि की समस्याओं का निराकरण करने के कार्य की जानकारी क्षेत्र के जन प्रतिनिधियों को भी दें। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को घेरलू व कृषि कनेक्शन के लिए ग्रामीण क्षेत्र में शिविर लगाकर समस्या का निदान करने के निर्देश दिए। बिना कनेक्शन ही बिजली के बिल उपभोक्ताओं तक पहुंचने के मामले सदस्यों द्वारा बैठक में उठाने पर उन्हेांने विद्युत विभाग के अधिकारियों के गंभीरता से लेते हुए उसकी तत्काल जांच करवाकर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने नोखा के साधूणा, चिताणा सहित विभिन्न गांवों में बंद ट्यूबवैल को ठीक करवाने के साथ जिन गांवों में कर्मचारी नहीं है वहां कर्मचारी लगाने के भी निर्देश दिए। 

डूडी ने कहा कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग आगामी गर्मी को देखते हुए ग्रीष्मकालीन बीमारियों की रोकथाम के लिए ग्रामीण क्षेत्र के स्वास्थ्य व आंगन बाडी केन्द्रों पर लू व तापघात से बचाव के लिए आवश्यक दवाइयां रखें। आगामी शिक्षा सत्र में अधिकाधिक बच्चे स्कूल में प्रवेश ले तथा वे नियमित स्कूल आएं इसके लिए शिक्षा विभाग अभी से ही तैयारी शुरू करें। उन्होंने आखातीज पर होने वाले बाल विवाह सामाजिक कुरीतियों को दूर करने के लिए भी जिला परिषद सदस्यों से ग्रामीण क्षेत्र में जन चेतना जागृत करने व ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षा का माहौल बनाने का आग्रह किया। 

जिला प्रमुख ने कहा कि इंदिरा आवास योजना की तर्ज पर ’ मुख्यमंत्री ग्रामीण बी.पी.एल. आवास योजना के क्रियान्वयन के लिए हुडकें से ऋण की भी   योजना  मुख्यमंत्री द्वारा प्रस्तुत बजट वर्ष 2011-12 की घोषणा के अनुसार लागू की गई है। इस योजना के तहत 11 हजार 414 आवास बनाने का लक्ष्य रखा गया है। इनमें अल्प संख्यक वर्ग के लिए 3 हजार 102 व अन्य के लिए 8 हजार 312 आवास बनाने प्रस्तावित है। इस योजना के वित पोषण के लिए जिला परिषद हुडकें से ऋण लेकर अधिकाधिक जरूरत मंद परिवारेां की लाभान्वित करेगा। उन्होंने जिला परिषद सदस्यों व ग्रामीण जन प्रतिनिधियों से  राज्य सरकार की जन कल्याणकारी व विकास की योजनाओं का लाभ आम लोगों तक पहुंचाने में सहयोग की अपेक्षा की। 

जिला कलक्टर डॉ.पृथ्वीराज ने कहा कि कार्यों की बेहतर मोनटरिंग की जाए तथा गाव में हुए विकास कार्यों में ग्रामीण भागीदारी विश्षकर जन प्रतिनिधियों की सहभागिता रखी जाए। बिजली के खम्भे व सामान आदि की ग्रामीण क्षेत्र में चोरी की घटनाओं को रोकने के लिए जन प्रतिनिधि भी सहयोग करें। उन्होंने कहा कि जो अधिकारी व कर्मचारी मूलभूत समस्याओं के निराकरण में कोताही बरते उनके खिलाफ आवश्यक कार्यवाही की जाएगी। जिला परिषद ग्रामीण प्रकोष्ठ के लेखाधिकारी संजय धवन बैठक का तकमीना प्रस्तुत किया। 
 

Ramesh Dudi   IAS Dr Prithviraj   Bhomraj Arya   RAS Rajendra Mishra   Bhaguram Sahoo