Friday, 20 October 2017

150 से अधिक बच्चों और महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच: सुथार

जरूरतमंद लोगों की मदद करना सुकूनदायक और पुण्य का काम:डोगरा

 

बीकानेर,  जिला कल€टर आरती डोगरा ने कहा कि जरूरतमंद लोगों की मदद करना सुकूनदायक और पुण्य का काम है। इन्हें समाज की मुख्यधारा से जोडऩे के लिए सरकारी प्रयासों के साथ-साथ आमजन के सहयोग की आवश्यकता होती है।  डोगरा शनिवार को पवनपुरी कॉलोनी स्थित नारी निकेतन में आयोजित नि:शुल्क चिकित्सा एवं परामर्श शिविर को संबोधित कर रही थीं। मारवाड़ अस्पताल की दूसरी वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि सरकार विभिन्न योजनाओं और कार्यक्रमों के माध्यम से ऐसे लोगों का जीवन स्तर सुधारने का काम कर रही है। इसके साथ विभिन्न स्वयंसेवी संगठन समय-समय पर आगे आएं तो सार्थक परिणाम मिलते हैं। उन्होंने कहा कि चिकित्सा संस्थान द्वारा विशेषज्ञ चिकित्सकों की देखरेख में बच्चों के स्वास्थ्य जांच के लिए आयोजन करना सराहनीय है। इससे दूसरे लोगों को भी प्रेरणा मिलेगी। इस दौरान उन्होंने छोटे-छोटे बच्चों के बीच बैठकर लगभग आघे घंटे तक उनसे आत्मीयता से बातें कीं। 
शिविर संयोजक डॉ नवनीत सुथार ने बताया कि शिविर के दौरान की गई। अस्पताल द्वारा प्रत्येक बच्चे के स्वास्थ्य से संबंधित फाइलें बनाई गई हंै। आवश्यकता के अनुसार समय-समय पर इनकी देखरेख की जाएगी। शिविर में उनके अलावा डॉ शशि सुथार, डॉ सुचिता बोथरा, डॉ श्रीधर नारायण पुरोहित, डॉ अजीत कुल्हरी, डॉ अमित पुरोहित तथा पीबीएम अस्पताल के डॉ हरफूल बिश्नोई सहित अन्य विशेषज्ञ चिकित्सकों ने अपनी सेवाएं दीं। इसके बाद अस्पताल द्वारा बिस्किट और फल आदि भी वितरित किए गए। इस दौरान समाज कल्याण अधिकारी नारायणी, सेवाश्रम संचालक भीष्म कौशिक, पूर्व पार्षद आदर्श शर्मा, बाल कल्याण समिति के साहब सिंह तोमर, मोइनुद्दीन कोहरी आदि मौजूद थे।
 

 

Dogra    Navneet Suthar