Friday, 20 October 2017

निशक्तजन के लिए सरकार संवेदनशीन-जैन

बीकानेर। निशक्तजन समारोह में बोलते हुए निशक्तजन आयुक्त खिल्लचंद जैन ने कहा कि राज्य सरकार निशक्तजनों के कल्याण के लिए पूर्ण संवेदनशील है। उन्होंने कहा निशक्तजनों को रोजगार प्रदान कर उन्हें स्वावलम्बी बनानी उनकी योजना पर कार्य किया जा रहा है ताकि वे आत्मनिर्भर बन सके। प्रशिक्षण में निशक्तजन सहायता शिविर में भाग लेने आये जैन ने कहा कि सरकार ने निशक्तजनों को कम्प्यूटर सहित अन्य रोजगार व प्रशिक्षण देकर उनको रोजगार मुहैया करवाएगी जिससे वे अपना कार्य स्वयं कर सकें ताकि वे दूसरे पर निर्भर न रहें। सरकारी सेवाओं में निशक्तजनों की नियुक्ति देने के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि उनके लिए 3 प्रतिशत आरक्षण पारित है लेकिन वितीय वर्ष में आधे प्रतिशत की नियुक्ति की गई। जबकि राज्य में 1 से 6 तक की नियुक्ति में पाबंदी के कारण उन्हें नियुक्ति नहीं दी गई। उन्होने कहा कि सरकारी नियुक्ति के साथ साथ निजी क्षेत्र में भी अपना हुनर दिखा सकें।
इस मौके पर जिला पुनर्वास केन्द्र सुरेश गोस्वामी ने बताया कि जिला कलेक्टर इस पुनर्वास की अध्यक्ष हैं लेकिन वे शिविर में उपस्थित नहीं हुई जबकि उन्होंने जिला रसद विभाग को निशक्तजनों के लिए भोजन की व्यवस्था के लिए कहा गया था लेकिन उन्होंने बजट नहीं होने की बात कही। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन का इस शिविर में किसी प्रकार का कोई सहयोग प्राप्त नहीं हुआ। इसके चलने आयोजित शिविर में निशक्तजनों को परेशानी का सामना करना पडा। लेकिन किसी प्रकार की कोई व्यवस्थाएं नजर नहीं आई। जबकि इस शिविर में दूर दराज से आये निशक्तजनों काफी प्रतीक्षा करने के बावजूद भी बिना ट्राईसाइकिल लिए ही लौटना पडा।

Night-wanderer