Friday, 20 October 2017

जल का संचय भावी पीढी के लिए वरदान-बेनीवाल

बीकानेर।  सरकारी मुख्य सचेतक वीरेन्द्र बेनीवाल ने कहा है कि जल का संचय ही हमारी भावी पीढी को जल उपलब्ध करवा सकेगी।  बेनीवाल सोमवार को लूणकरनसर से 55 किलोमीटर दूर ग्राम ढाणी खोडा में 8 लाख रुपये की लागत से बने नलकूप के उद्घाटन अवसर पर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि आज के इस वैज्ञानिक युग में मानव ने बहुत कुछ कर लिया मगर पानी का उत्पादन आज भी एक दिव्य सपना सा लगता है। ऐसे में हमें पानी की बचत करनी होगी। पानी के संरक्षण के अभाव में आने वाले वर्षों में परिस्थिति बहुत बिगड सकती है। उन्होंने कहा कि सरकार विद्युत उत्पादन के मामले में गंभीरता के साथ कार्य प्रारंभ करने जा रही है। शीध्र ही नई इकाइयां बन जाने से विद्युत आपूर्ति में काफी सुधार हो जाएगा। विद्युत उत्पादन में और तेजी लाई जाएगी।  बेनीवाल ने कहा कि अधिकारी, जन प्रतिनिधि व जनता आपस में सामंजस्य बनाए रखते हुए जनहित के कार्य करें। उन्होंने नरेगा का जिक्र करते हुए कहा कि इस योजना से सरकार की मंशा दूर इलाके में बैठे जरूरतमंद व्यक्तियों को रोजगार उपलब्ध करवाना है। नरेगा कार्य में लगे श्रमिको को समय पर मजदूरी मिले इसके लिए अधिकारी सचेत होकर कार्य करें। उन्होंने कहा कि विद्यालय क्रमोन्नत जैसे कार्य में आस पास की पंचायतों के जन प्रतिनिधि मिलकर तय करें कि किस गांव में विद्यालय क्रमोन्नत करना पहली प्राथमिकता होनी चाहिए। उन्होंने उपस्थित लोगों को विश्वास दिलाया कि सार्वजनिक हित के कार्य में धन की कमी आडे नहीं आने दी जाएगी। इस अवसर पर उप खंड  अधिकारी, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, विद्युत विभाग सहित विभिन्न ग्राम पंचायतों व पंचायत समिति के पंच सरपंच आदि उपस्थित थे।

Loonkaransar MLA Virender Beniwal