Friday, 20 October 2017

कन्जूमर चार्टर का लोकार्पण

महासंघ ने किया दस सूत्री मांग का एक घोषणा पत्र

बीकानेर। अखिल राजस्थान उपभोक्ता संगठन महासंघ की ओर से आम उपभोक्ताओं की समस्याओं के निराकरण को राजनैतिक दलों के घोषणा पत्र में शामिल करवाने के लिये कन्जूयमर चार्टर का लोकार्पण पाराशर भवन में आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्य संरक्षक डॉ अनंत शर्मा सहित महासंघ के प्रदेश, संभाग व जिले के पदाधिकारियों ने किया। पत्रकारों को चार्टर की जानकारी देते हुए डॉ शर्मा ने बताया कि उपभोक्ता को लूट से बचाने के लिये महासंघ ने दस सूत्री मांग का  एक घोषणा पत्र तैयार किया है । पिछले दस सालों से महासंघ ऐसा घोषणा पत्र तैयार कर पार्टियों को सौंपती है। जिसकी क्रियान्विती भी होती आई है। इस दफा भी महासंघ लगभग 150 जिलों के उपभोक्ताओं की समस्याओं का संकलन कर एक घोषणा पत्र तैयार किया गया है। जिसकों दोनों प्रमुख दलों के अलावा तीसरे मोर्च के सभी घटकों को सौंपकर उपभोक्ताओं को मांगों को निराकरण के लिये अपने चुनावी घोषणा पत्र में शामिल करने के लिये कहा जायेगा। इस संदर्भ में महासंघ के पदाधिकारी आगामी दिनों में राजनीतिक दलों के घोषणा कमेटी के प्रमुखों से मिलकर घोषणा को सौंपेगे।  शर्मा ने बताया कि इन मांगों में मुख्य तय मंहगाई पर नियंत्रण के लिये राज्य स्तरीय मूल्य निगरानी एवं नियंत्रण आयोग का गठन,जन शिकायत निवारण आयोग का  गठन,ग्राहक शक्ति पीठ का गठन,उपभोक्ता मंचों की ओर से तहसील स्तर पर कैंप कोर्ट लगाने,उपभोक्ता संरक्षण गतिविधियां समग्र रूप आयोजित करने,प्रभावी आवास नीति बनाने, सार्वजनिक वितरण प्रणाली को मजबूत बनाने की मांगे है। इनको पार्टियां अपने घोषणा पत्र में शामिल न करने की स्थिति में महासंघ सभी पार्टी के उम्मीदवारों से घोषणा का संकल्प पत्र भरवायेगी। पत्रकार वार्ता में मुकेश वैष्णव,सुरेश के व्यास व योगेश पालीवाल भी उपस्थित थे।

Knjumr Charter launched