Wednesday, 13 December 2017

हरी सब्जियां, स्वास्थ्य के साथ खिलवाड

बीकानेर। स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए प्रयोग में ली जा रही हरी सब्जियां ही अब स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा रही हैं जबकि ये सब्जियां मानव में आंखों की रोशनी हो या पेट का दर्द में सहायक होती हैं लेकिन गंदे पानी से पैदा की जाने वाली सब्जियां शहर की मंडियों में आ रही है जो कि अल्सर, कैंसर जैसी घातक बीमारियों को जन्म दे रही हैं। जोडबीड व श्रीरामसर से क्षेत्रों से जहां सीवरेज व गंदे नाले से सीधा पानी से सब्जियां पैदा की जा रही हैं जो सीधे इन मंडियों में पहुंच जाती हैं जहां दुकानदार केवल दिखावटी के तौर पर सफाई करके सजा लेता है। इस संबंध में कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक इन्द्र मोहन वर्मा का कहना है कि सीवरेज के पानी से पैदा की जाने वाली सब्जियों में केडियम व आर्सानिक नामक तत्व हमारे शरीर में पहुंच जाते हैं ये तत्व मूली, पालक, टमाटर जैसी सब्जिय में अधिक मात्रा में होते है। उन्होंने कहा कि जमीन के अंदरूनी भाग से पैदा की जाने वाली सब्जियों में पानी के साथ इन जहरीले तत्व को भी सोख लेते है। वर्मा ने कहा कि ऐसी सब्जियों के लगातार प्रयोग करने से हमारे स्वास्थ्य पर अनुकूल प्रभाव नहीं पडता। जबकि सडी गली सब्जियों व फलों के ही नमूने लिये जाते हैं लेकिन अभी तक इस संबंध में उचित कार्यवाही कभी नहीं की जाती। अगर संबंधित विभाग ने इस संबंध में समय रहते उचित कार्यवाही नहीं की तो  गंदे पानी की सब्जियां बेरोकटोक विक्रय की जाएंगी जिसका मानव स्वास्थ्य पर असर पडे बगैर नहीं रह सकता और मानव में समय से पहले बूढापा झलकने लगता है। जबकि गंदे पानी से पैदा की जाने वाली सब्जियां खतरनाक तो हैं ही साथ ही यह गंदा पानी जमीन की उर्वरकता भी खत्म कर देता है। जबकि शहर की मंडियों में सब्जियों के भाव आसमान छू रहे हैं जिसें  भिंडी 25 रु, आलू 15 रु, मिर्च 20 रु, करेला, 20 रु, घीया 20 रु, टमाटर 24 रु, परवल 15 रु किलो बेचे जा रहे हैं।
इस संबंध में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सी.बी.धानावत ने कहा कि गंदे पानी से पैदा की जा रही सब्जियां पर रोक लगाना संभव नहीं है जबकि यह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।
इस संबंध में के.एम.दुडिया, आयुक्त नगर निगम बीकानेर ने कहा कि यह कार्य नगर निगम के क्षेत्र का नहीं है।
स्वास्थ्य इंस्पेक्टर रमेश पारीक ने कहा कि खाद्य संस्करणों की जांच के लिए बनाये गये एक्ट के तहत केवल बाजार में ही विक्रय की जा रही सब्जियों के नमूने लिये जा सकते हैं।

 

Green vegetables