Sunday, 17 February 2019
khabarexpress:Local to Global NEWS
  2766 view   Add Comment

 पत्रकार भटनागर का हुआ नागरिक अभिनंदन

 पत्रकार भटनागर का हुआ नागरिक अभिनंदन

बीकानेर, वरिष्ठ पत्राकार अभय प्रकाश भटनागर  ने मिशन की भावना से पत्राकारिता की।  उन्होंने अपनी पत्राकारिता के द्वारा राष्ट्रहित, समाजोत्थान तथा मानव कल्याण के लिए कार्य किया। उनकी पत्राकारिता के जीवन मूल्य, एक प्रकाश स्तम्भ की तरह हमारा पथ प्रशस्त कर सकते हैं। 

यह उद्गार  विभिन्न वक्ताओं ने  पत्राकार भटनागर के सम्मान में व्यक्त किए। अवसर था पत्रकार  भटनागर के नागरिक अभिनंदन का। श्री अभयप्रकाश भटनागर  नागरिक अभिनंदन समिति द्वारा महाराजा नरेन्द्र सिंह आॅडिटोरियम में रविवार को यह कार्यक्रम आयोजित किया गया।  कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए सांसद अर्जुनराम मेघवाल ने कहा कि भटनागर ने अत्यन्त विषम परिस्थितियों में पत्राकारिता का कार्य शुरू किया तथा इसे आज भी बखूबी निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पत्राकार कठिन हालात में कार्य करते हैं।  उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि  इस वर्ष राजस्थानी भाषा को संवैधानिक मान्यता मिल जाएगी। 

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए लूणकरनसर विधायक मानिक चंद सुराणा ने कहा कि भटनागर का जीवन सबके लिए प्रेरणा स्त्रोत है। पिछले 58 वर्षों में बीकानेर व देश-प्रदेश के समाचार, भटनागर के अखबार  ’’टाइम्स आॅफ राजस्थान ’’ में सुरक्षित हैं, ये शोधार्थियों के काम आएंगे। उन्होंने कहा कि लघु समाचार पत्रों को उचित प्रोत्साहन की आवश्यकता है, जिससे वे आत्म निर्भर बन सकंे। विशिष्ट अतिथि के रूप में बोलते हुए पूर्व महापौर भवानी शंकर शर्मा  ने कहा कि भटनागर  ने पत्रा के माध्यम से जन साधारण की पीड़ा को सामने रखा। उन्होंने सदैव निर्भय रहकर पत्राकारिता की। विशिष्ट अतिथि डाॅ.मदन केवलिया ने कहा कि भटनागर बीकानेर की पत्राकारिता के आधार स्तम्भ हैं।  उनके द्वारा किया गया कार्य नई पीढ़ी को प्रेरित करेगा। पत्राकार शुभू पटवा ने भटनागर के संस्मरण सुनाते हुए उनकी सकारात्मक व स्वस्थ पत्राकारिता की तारीफ की। साहित्यकार लक्ष्मीनारायण रंगा द्वारा भटनागर के व्यक्तित्व व कृतित्व पर लिखे संदेश का वाचन रमेश भोजक ने किया।
    इस अवसर पर अभय प्रकाश भटनागर ने कहा कि उन्होंने  इतिहास, स्वतंत्राता आंदोलन, अकाल सहित विविध विषयों की  तथ्यात्मक जानकारी  अपने पत्रा में प्रकाशित की। लधु समाचार पत्रों के हितों के लिए सदैव संघर्ष किया साथ ही जन जागृति के लिए कार्य करने का हर संभव प्रयास किया। 
    कार्यक्रम के मुख्य वक्ता पत्राकार मधु आचार्य आशावादी ने कहा कि भटनागर ने पत्राकारिता के द्वारा सामाजिक कुरीतियों, भ्रष्टाचार का विरोध किया। वे व्यावसायिक पत्राकारिता से सदैव दूर रहे । उन्होंने अपनी कलम से अनेक जन कल्याणकारी  आंदोलनों की शुरूआत की। उन्होंने युवा पत्राकारों को हमेशा प्रोत्साहित किया। कथाकार मालचंद तिवाड़ी ने स्वागत भाषण देते हुए कहा कि इनके व्यक्तित्व से हमें प्रेरणा मिलती है। कमल रंगा ने आयोजन की महत्ता बताई। नंद किशोर सोलंकी व बुनियाद हुसैन जहीन ने आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन हरीश बी शर्मा ने किया। 
हुआ सम्मान- इस अवसर पर बीकानेर की प्रमुख साहित्यिक, सामाजिक, सांस्कृतिक संस्थाओं द्वारा भटनागर का सम्मान किया गया। जर्नलिस्ट एसोसिएशन आॅफ राजस्थान, बीकानेर द्वारा भटनागर का अभिनंदन पत्रा, शाॅल व श्रीफल भेंट कर सम्मान किया गया। कार्यक्रम में  बड़ी संख्या में साहित्यकार, पत्राकार, राजनीतिज्ञ मौजूद थे। 

Share this news

Post your comment