Tuesday, 17 October 2017

चिकित्सा मंत्री ने बकाया वेतन देने के दिए निर्देश

3000 से अधिक आॅपरेटर्स को मिल सकता है हक

जयपुर, मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा वितरण केन्द्रों पर 20 माह तक सेवाएं देने के बावजुद वेतन नहीं पाने वाले मैन विद मशीन आॅपरेटर्स के लिए आई राहत की खबर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री राजेन्द्र राठौड ने आज अपने विभाग के प्रमुख शासन सचिव मुकेश शर्मा को निर्देश दिये कि इन आॅपरेटर्स के बकाया वेतन का तुरन्त भुगतान कराया जाए जिसके लिए राजस्थान उच्च न्यायालय ने भी निर्देश दे रखे है।

Rajendra Rathor in Public hearing
राठौड ने यह निर्देश अखिल राजस्थान मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा वितरण योजना कम्पयूटर आॅपरेटर महासंघ के प्रतिनिधि मण्डल द्वारा दिए गए ज्ञापन पर दिये।
संगठन के प्रदेश प्रचार मंत्री विनय थानवी के नेतृत्व में प्रतिनिधि मण्डल ने राठौड से मिलकर शिकायत कि की अदालत तथा स्वयं चिकित्सा मंत्री के निर्देशों की अवहेलना करते हुए विभाग ने आॅपरेटर्स का बकाया वेतन रोक रखा है। यह न केवल अदालत के आदेशों की अवहेलना है बल्कि मंत्री महोदय के निर्देशों की भी अवज्ञा है।
राठौड ने प्रमुख शासन सचिव से कहा कि जब बजट में इस भुगतान की व्यवस्था है। तब फिर विलम्ब किस लिए हो रहा है। उन्होनें इस विलम्भ के लिए नाराजगी जाहिर की और कहा कि प्रदेश के लगभग सभी हिस्सों में ऐसे आॅपरेटर्स इस विलम्भ का शिकार हो रहे है जिससे सरकार की छवि पर बुरा असर पड़ रहा है।
 
 

Govt Employee   MNDY Operators   Rajendra Rathore   Salary Issue