Sunday, 22 October 2017

सडक पर मिले कंडोम व सैक्स वर्द्धक मेडिसिन

नाको की सप्लाई के भारी मात्रा में मिले कंडोम

बीकानेर, बीछवाल औघोगिक क्षेत्र व करणी नगर औघोगिक क्षेत्र के बीच की सडक पर रेलवे पटरियो के पास बुधवार को भारी मात्रा में बिना उपयोग में लिये गये कंडोम व सैक्स वर्द्धक दवाईया लावारिश स्थिति में मिली। सरकारी सप्लाई के इन कंडोम व मेडिसिन के मिलने से स्वास्थ्य विभाग में एक बारगी हडकम्प मच गया। सूचना मिलने पर सीएचएमओ डॉ पी आर वाल्मिकी, डिप्टी सीएचएमओ डॉ देवेन्द्र चौधरी, डिप्टी सीएचएमओ (परिवार कल्याण) डॉ सागरमल शर्मा व डॉ नवल गुप्ता मौके पर पंहुचे व कंडोम तथा मेडिसिन की जांच कर सेम्पल संग्रहित किये। सडक पर लावारिश स्थिति में मिले इन कंडोम की संख्या लगभग 1500 से 2000 पैकेट है। इन कंडोम पर नेशनल एड्स कंट्रोल (नाको) का लेबल लगा हुआ पाया गया। वही सैक्स वर्द्धक मेडिसिन भी बडी संख्या में पाई गई। सीएचएमओ डॉ वाल्मिकी ने प्राथमिक जांच के बाद बताया कि यह कंडोम व मेडिसिन स्वास्थ्य विभाग की सफाई नही है। यह किनके है। व यहं कौन फेंककर गया। इसकी जांच की जाएगी। उन्होने बताया कि बडी संख्या में मिले कंडोम की एक्सपायरी डेट वर्ष 2013 व 2014 है। मेडिसिन की कुछ की वर्ष 2011 व कुछ की 2012 है। सीएचएमओ के अनुसार ड्रग इंस्पेक्टर से जांच करवाने के साथ जो संस्थाऐ इन कंडोम का विवरण करती है। उनसे पता लगाया जाएगा कि किस कारण से कचरे के ठेर पर इन कंडोम व मेडिसिन को फेंका गया है।   

CMHO Dr Valmiki   Dr Devendra Chaudhary   Bikaner CMHO   Condom