Sunday, 08 December 2019
khabarexpress:Local to Global NEWS
  930 view   Add Comment

नेत्र प्रत्यर्पण पर विशेषज्ञ चिकित्सक अध्ययन करेंगें साझा

नेत्र प्रत्यारोपण से संबंधित तीन दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यशाला रविवार से

नेत्र प्रत्यर्पण पर विशेषज्ञ चिकित्सक अध्ययन करेंगें साझा

बीकानेर, 24 अगस्त। सरदार मेडिकल काॅलेज के नेत्र विभाग द्वारा 25 से 27 अगस्त तक नेत्र प्रत्यारोपण से संबंधित तीन दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यशाला का आयोजित की जायेगी।
यह जानकारी नेत्र विभाग के सीनियर प्रोफेसर डॉक्टर मुरली मनोहर ने दी। उन्हांेने बताया कि राष्ट्रीय नेत्रदान पखवाड़ा पूरे देश में प्रतिवर्ष 25 अगस्त से 8 सितम्बर  तक मनाया जाता है। इसी क्रम में राज्य स्तरीय नेत्र प्रत्यारोपण संबंधित कार्यशाला का आयोजन नेत्र विभाग सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज हो रहा है।  
कार्यशाला में देश के 7 कॉर्निया विशेषज्ञ भाग ले रहे हैं जिसमें अहमदाबाद के डॉक्टर जयेश, जयपुर से डॉक्टर धर्मवीर अंकुर तथा सीकर से डॉक्टर हेमंत जैन भाग ले रहे हैं।  कार्यशाला के पहले दिन सभी विशेषज्ञ सुबह के सत्र में स्लाइड्स के द्वारा नेत्र प्रत्यारोपण के लिए मरीजों के चयन करेंगे। इसमें जो कॉर्निया  बदला जा सकता है,इस बारे में विस्तार से बताया जायेगा। इसके बाद शाम को नेत्र विभाग तथा बीकानेर ऑफ द म्यूजिक साइंटिफिक सोसायटी के संयुक्त तत्वावधान में एक सम्मान समारोह का आयोजन किया जाएगा जिसमें नेत्रदान से संबंधित प्रोत्साहन तथा नेत्र संगठित करने वालों का सम्मान भी किया जाएगा। 
समारोह का उद्घाटन सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज के अतिरिक्त प्राचार्य डॉ निरंजन माथुर तथा पीबीएम अस्पताल के अधीक्षक पीके बेरवाल करेंगे। कार्यशाला के दूसरे दिन 26 अस्गत को  नेत्र विशेषज्ञ नेत्र प्रत्यारोपण से संबंधित विभिन्न प्रकार की लाइव सर्जरी करेंगे । इसके पश्चात राज्य से आए नेत्र चिकित्सक व पीजी कक्षाओं में अपने हाथों से वेटलेस यानी जो कॉर्निया प्रत्यारोपण के काम नहीं आ सकते हैं उसका प्रशिक्षण दिया जाएगा इसके लिए चार विशेषज्ञ डाक्टर तथा 40 कॉर्निया वेट लैब के लिए जयपुर  से आएंगे।
डाॅ.मुरली मनोहर ने बताया कि तीसरे दिन 27 अगस्त को कुछ जटिल केसों की सर्जरी की जाएगी जिसका लाइव प्रसारण भी किया जाएगा। कुछ ऐसे रोगी भी चिन्हित किए गए हैं जिनका कॉर्निया के साथ सेकंड झिल्ली भी खराब हो चुकी है, उनको भी एक नई तकनीक स्टैंड लेजर द्वारा ठीक किया जाएगा । उन्होंने बताया कि राज्य के सभी पीजी छात्रों के बीच एक क्विज का आयोजन किया जाएगा । 
  कार्यशाला को सफल बनाने के लिए नेत्र विभागाध्यक्ष डॉक्टर संजू कोचर के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया है जिसमें प्रोफेसर कल्पना जैन,प्रकृति कोचर, डॉ रश्मि जोशी, डॉक्टर नवाब अली तथा डॉक्टर अनिल चैहान शामिल।

Share this news

Post your comment