Thursday, 19 October 2017

संभाग स्तरीय चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित

बीकानेर, हरित राजस्थान योजना की भावना बच्चों में जागृत करने के लिए राजस्थानी भाषा साहित्य एंव संस्कृति अकादमी बीकानेर द्वारा मंगलवार को दयानन्द पब्लिक स्कूल में चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की गई। इस प्रतियोगिता में छोटे-छोटे बच्चों ने बढ-चढकर हिस्सा लिया। बच्चों के अन्दर हरित राजस्थान को लेकर काफी उत्साह नजर आ रहा था। अकादमी के सचिव पृथ्वीराज रतन ने बताया की इस प्रतियोगिता में कुल 700 बच्चों ने भाग लिया जिसमें संभाग के बाहर से 100 बच्चों ने भाग लिया। भादरा, हनुमानगढ, रायसिंहनगर, घडसाना, चुरू, डुंगरगढ, सुरतगढ आदि जगहो से बच्चों ने भाग लिया। प्रतियोगिता के मुख्य अतिथि संम्भागीय आयुक्त प्रीतमसिंह कार्यक्रम की अध्यक्षता अलका डोली पाठक दयानन्द पब्लिक स्कूल की प्राचार्य थी। प्रतियोगिता दो वर्गो में आयोजित की गई। विशिष्ट वर्ग - कनिष्ट वर्ग दोनो वर्गो के अलग-अलग निर्णायको को निर्णय के लिए नियुक्त किये गए थे।
विशिष्ट वर्ग में इन्द्रसिंह राजपुरोहित, अनुपम हलदार, मधु शेखावत थे।
कनिष्ट वर्ग के मुरलीमनोहर माथुर, मोनासरदार, नीलम शेखावत थे।
राजस्थानी भाषा कार्यवाहक अध्यक्ष एंव अभिलेखा विभाग के निर्देशक डॉ. महेन्द्र खडगावत ने बताया इस प्रतियोगिता में जिस प्रकार से बच्चों ने भाग लिया इससे लगता है कि राजस्थान जल्द ही हरित होता नजर आ रहा हैं। निर्णायकों द्वारा घोषित परिणामों में कनष्टि वर्ग में प्रथम योगेन्द्रसिंह चावला(भादरा), अंशुमनसिंह द्वितीय और ऋषभ सिपानी तृतीय स्थान पर रहे। विशिष्ट वर्ग में प्रथम शिखा विश्नोई द्वितीय प्रतिभा चांडक तृतीय दिक्षा शर्मा रहे। अकादमी द्वारा विजेताओं को प्रथम पुरूस्कार 1000 रू, द्वितीय पुरूस्कार 700 रू, तृतीय पुरूस्कार 500 रू दिये गये। तथा तीन संात्वना पुरूस्कार में स्मृति चिन्ह भेंट किये गये। आये हुए सभी प्रतियोगियों को राजस्थानी भाषा अकादमी द्वारा प्रमाणपत्र दिये गए। इस अवसर पर संम्भागीय आयुक्त ने कहा कि बच्चे देश का भविष्य होते है इनमें इस प्रकार की जागृति लाना आवश्यक हैं। इस प्रकार की प्रतियोगिता का आयोजन समय-समय पर करवाते रहना चाहिये जिससे बच्चों पर काफी अच्छा प्रभाव पडता हैं।

chitrkala competition