Wednesday, 13 December 2017

हजरत पीर महबूब बख्श चिश्ती का 51 वां उर्स मुबारक सम्पन्न

नमाज के बाद मस्जिद में कुल की रस्म में सज्जादानशीन पीर गुलाम अल्लाह बख्श चिश्ती ने चिश्ती बाबा का शिजरा पढा ।

बीकानेर  हिन्दू-मुस्लिम एकता के प्रतीक हजरत पीर महबूब बख्श चिश्ती (रह0) का 51 वां उर्स मुबारक बुधवार की शाम मौहल्ला चूनगरान मस्जिद में कुल की रस्म के साथ सम्पन्न हुआ । कुल का छींटा पाकर सैकडों जायरीन अभिभूत हो गये ।
बुधवार की शाम असर की नमाज के बाद मस्जिद में  कुल की रस्म में सज्जादानशीन पीर गुलाम अल्लाह बख्श चिश्ती ने चिश्ती बाबा का शिजरा पढा । मुफती जुन्नुरैन ने मुल्क में अमन चैन और प्रगति की दुआ की ।  मस्जिद के इमाम कारी मो0 साबिर चिश्ती,पीरजादा मो0 सलीम चिश्ती, पीर जाकिर हुसैन चिश्ती, पीर हफीजुर्रहमान ,मौलाना मो0 ओवेस, कारी शोएब हुसैन शामिल थे । कार्यक्रम में मौहल्ले की मिलाद पार्टी  ने चिश्ती बाबा की शान में मनकबत पेश की-”लाखों इमाम देखेे अब्बास हमने लेकिन/लाखों में एक ही है महबूब बख्श चिश्ती” । मिलाद पार्टी ने ”किस्मत पे भरोसा नहीं, लेकिन चिश्ती पे भरोसा है” सहित अनेक रचनाएं सुनाई । फातेहाखानी में हाफिज मासूम हुसैन, हाफिज शफीकुर्रहमान सहित मदरसों के हाफिजो- कारी ने कुरान का पाठ किया । कुल की रस्म में जायरीनों पर पवित्र जल का छिडकाव किया गया तथा शीरनी और संदल बांटा गया । इस अवसर पर बडी देग चढाई गई, जिसका तबर्रूक घर-घर बांटा गया ।
उर्स के अवसर पर पीरबख्श चिश्ती एकता कमेटी की ओर से अजीम भुटटा, मोहम्मद जावेद,सददाम हुसैन, इमरान, सुल्तान,वसीम राजा, मोहतरम अली के नेतृत्व चादर का जुलूस निकाला गया । बुधवार को दिन भर चादर चढाने का सिलसिला चलता रहा । जाकिर हुसैन के नेतृत्व में  हुसैनी वेलफेयर कमेटी के कार्यकताओं ने चौखूंटी से चादर का जुलूस के साथ चिश्ती बाबा के मजार पर चादर चढाई । आस्ताना गली, सर्वोदय बस्ती के जायरीनों ने गुलाम मोहियुदीन, खलील अहमद कादरी, मुहम्मद फारूक,मुहम्मद आमीन भिश्ती, गुलाम हुसैन, बुरहानुदीन के नेतृत्व चादर का जुलूस निकाला गया, जिसमें बडी संख्या में महिलाएं भी शामिल थी । उर्स के अवसर पर मौहल्ला चूनगरान में अफरोज खान,वसीम राजा, मुहम्मद इब्राहिम खां,ताहिर हसन, अहमद,वसीम एण्ड पार्टी की ओर से लंगर के आयोजन किये गये । 
उर्स के अवसर पर मौहल्ला चूनगरान में आयोजित तकरीर के कार्यक्रम में जामा मस्जिद कुम्हारी नागौर के खतीब मौलाना मुहम्मद इलयास अशरफी ने दीन और दुनिया में सफलता के लिए चिश्ती बाबा के आदर्शो पर चलने का आव्हान किया । 

Hazrat peer