Thursday, 14 December 2017

सॉफ्टवेयर आऊट कम ट्रेकर के माध्यम से ओडीएफ सर्वेक्षण किया

जिला कलक्टर ने हिम्मटसर के सरपंच, वार्डपंचों एवं ग्रामीणों की इस पहल पर उनका आभार व्यक्त किया

 जिला कलक्टर आरती डोगरा ने रविवार को नोखा तहसील के हिम्मटसर गांव में वल्र्ड बैंक डब्ल्युएसपी साउथ एशिया द्वारा विकसित सॉफ्टवेयर आऊट कम ट्रेकर के माध्यम से ओडीएफ सर्वेक्षण किया तथा जिला संदर्भ दल सदस्यों द्वारा किये जा रहे मोबाईल सर्वेक्षण की जानकारी ली। यह सर्वेक्षण देश में पहली बार बीकानेर से प्रारंभ किया गया। निर्मल भारत अभियान के तहत खुल में शौच से मुक्त ग्राम पंचायत हिम्मटसर को विधिवत ओडीएफ घोषित करने के लिये ई-सर्वेक्षण किया गया। जिसमें जिला कलक्टर आरती डोगरा, उपखण्ड अधिकारी मोहनदान रतनू, जिला समन्यवक महेन्द्रसिंह शेखावत, निर्मल भारत अभियान की नोखा प्रभारी रीता कुरडिया सहित सर्वे कर्ताओं ने ग्राम का सर्वेक्षण किया। इस अवसर पर जिला कलक्टर डोगारा ने कहा कि बीकानेर जिले में ओडीएफ होने वाली ग्राम पंचायतों का सख्त सर्वेक्षण किया जाकर इनके खुल में शौच से मुक्त होने का प्रभावीकरण नवीनतम नकीनीक से किया जा रहा है। उन्होने प्रसन्नता जताई कि हिम्मटसर ग्राम पंचायत ने नोखा की प्रथम ओडीएफ ग्राम पंचायत होने का गौरव हासिल किया है। जिला कलक्टर ने हिम्मटसर के सरपंच, वार्डपंचों एवं ग्रामीणों की इस पहल पर उनका आभार व्यक्त किया। जिला कलक्टर ने स्वयं श्रीमति चैनादेवी नाई के घर का मोबाईल से सर्वे कर जानकारियां अपलोड की। उपखण्ड अधिकारी मोहनदान रतनू, जिला समन्यवक महेन्द्रसिंह शेखावत सहित सात सर्वेकर्ताओं ने विभिन्न घरों, विद्यालयों  एंव आंगनबाड़ी केन्द्रों का मोबाईल सर्वेक्षण किया। जिला कलक्टर ने ग्राम में विभिन्न लोगों से सम्पर्क कर उनसे निर्मल भारत अभियान संबंती बातें पूछी। इससे पूर्व जिला कलक्टर ने ग्राम पंचायत चरकड़ा में निर्मल भारत अभियान के तहत चल रहे शौचालय निर्माण कार्यो का अवलोकन किया। सरपंच हेम कंवर, अनोपसिंह, ग्राम सेवक गिरधर स्वामी एवं ब्लॉक समन्वयक थानदास से उन्होने चल रहे कार्यो की जानकारी प्राप्त की। निर्माणाधीन शौचालयों कार्यो का कई घरों में जाकर निरीक्षण करने के पश्चात जिला कलक्टर ने जिला समन्वयक को आवश्यक निर्देश दिये। डोगरा ने चल रहे कार्यो से संतुष्टी जताते हुए निर्देश दिये कि जिन घरों में शौचालय नहीं है। उनकी सूची अविलंब तैयार कर, इन घरों में प्राथमिकता से शौचालय निर्मित  रखा जायें। जिला कलक्टर ने साक्षर भारत प्रेरण एवं ब्लॉक समन्वयक के प्रयासों को नाकाफी बताते हुए उन्हे निर्देश दिये कि कार्य की जिम्मेदारी के साथ पूरा करें। उन्होने जिला समन्वयक को निर्देश दिये कि प्रेरक, ब्लॉक समन्वयक एंव अन्ययों के कार्यो की समीक्षा कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। कार्यक्रम में सरपंच हिम्मटसर श्रीमति संतोष कंवर, चरकड़ा सरपंच श्रीमति हेमकंवर, मेघसिंह हिम्मटसर, अनोपसिंह, ग्राम सेवक तख्ताराम, गिरधर स्वामी, जिला संदर्भ दल सदस्य पवन पंचारिया, निर्मल कंवर, ललीत शर्मा, मुकेश औझा,  भागीरथ आचार्य, भवानी शंकर, महिपालसिंह, अभिषेक सहित नोखा प्रभारी रीता कुरडिय़ा सहित अनेक डीआर जी सदस्य उपस्थित थे। चिलचिलाती धूप में किया निरक्षण जिला कलक्टर आरती डोगरा ने चिलचिलाती धूप में तपते धोरों पर बसें घरों तक जाकर शोचालयों का निरीक्षण किया। बेहद तेज गर्मी से बचने के लिये जिला कलक्टर ने टोपी पहन रखी थी और तपती रेत पर चल कर घर घर पहुंच कर निर्मल भारत अभियान के तहत संचालित कार्यो की समीक्षा की। हिम्मटसर में भी जिला कलक्टर ने तीखी धूप में खड़े रह कर मोबाईल सर्वेक्षण किया। 

Checking software    Arti Dogra   Santosh    Mukesh Ojha    mahendra Shekhavat