Wednesday, 21 August 2019
khabarexpress:Local to Global NEWS
  2133 view   Add Comment

शरत पूर्णिमा पर बाजार से गायब है मतीरा

 शरत पूर्णिमा का त्यौहार बीकानेर में श्रद्धा व भक्ति के साथ मनाया जा रहा है। शरत पूर्णिमा पर भगवान चंद्रमा को रेगिस्तान का अमृत फल मतीरा व विशेष मिठाई बडक खीर के साथ भोग लगाई जाती है। आज बीकनेर में काफी विचित्र स्थिथि देखने को मिल रही है। बाजार से मतीरा गायब है। मतीरे के नाम पर सिर्फ मतीरे का छोटा रुप मिल रहा है।वह भी पच्चीस से पचास रुपये में। पिछले पचास साठ सालों में यह पहती बार है कि बाजार से मतीरा गायब है। इस स्थिथि से पुरुषो की हालत खराब है दर दर भटक रहे है लेकिन मतीरा नही मिल रहा। घर मे औरतौं का कहना है कि बिना मतीरा शरत पूर्णिमा कैसे मनाए। लोगों से बात करने पर उन्होने कहा कि खीर ही प्रसाद होगी। मौसम के बदलाव से ये हालात बने हैं नही तो हर साल इस मौसम में मतीरा बाजार में आ जाता है। कहने को तो यह छोटी सी बात है लेकिन यह घटना बडे पारिस्थिकी बदलाव के संकेत दे रही है।

Share this news

Post your comment