Monday, 11 December 2017

संघर्ष समिति ने शुरू कि या आमरण अनशन

अभी तक नहीं हुई है गिरफतारी

बीकानेर। पीबीएम अस्पताल में  एक  रोगी की मौत के बाद उसके परिजनों  से रेंजिडेंट डाक्टरों की द्वारा  की गई मारपीट की घटना में लिप्त  रेजिडेंट डाक्टरों और  पीबीएम  हॉस्पिटल में आए दिन होने वाले हंगामे,  मरीजों से मारपीट की घटनाओं पर  प्रभावी अकुंश लगाने की मांग को लेकर   गठित सर्वदलीय \'पीबीएम बचाओ संघर्ष समितिÓ  के 11 सदस्यों ने जिला कलक्टे्रट के  सामने आमरण अनशन शुरू कर दिया।  जिन्हें भाजपा व कांग्रेस के नेताओं ने  माला पहनाकर अनशन पर बिठाया।  धरना स्थल पर हुई सभा को  संबोधित करते हुए वक्तओं ने कहा  कि  अगर  पुलिस ने मुकदमें में नामजद  रेजिंडेंट डाक्टरों को हिरासत  में लेकर उनके खिलाफ कोई  कार्यवाही नहीं की तो संघर्ष समिति अपना  आंदोलन तेज करेगी। वक्ताओं ने कहा  कि पीबीएम के हालात दिनों दिन बद से  बदत्तर होते जा रहे है। अपने आप  को भगवान समझने वाले चिकित्सक मरीजों  व उनके परिजनों के साथ दुव्र्यवहार  करने से बाज नहीं आते। चिकित्सकों के  इस रवैये से आमजन तंग व परेशान है।   इधर पीबीएम के रेजिडेंट भी अपनी  मांग पर अड़े हुए है और उन्होने  आज चौथे दिन भी पीबीएम अस्पताल में अपना  कार्य बहिष्कार जारी रखा जिससे  अस्पताल की चिकित्सा व्यवस्थाएं बुरी तरह  लडख़ड़ा गई है और ऑपरेशन टाल  कर रोगियों का जबरन छूट्टी  देकर घर भेजा जा रहा है ।  आपाताकलीन स्थिति के रोगियों के  ऑपरेशन करने में भी दिक्कतों का  सामना करना पड़ा। वहीं नर्सिंग  विद्यार्थियों ने रेजिडेंट डाक्टरों के  समर्थन में प्रदर्शन कर हड़ताल की ।  

अभी तक नहीं हुई है गिरफतारी 

पीबीएम हॉस्पिटल में रेजीडेंट डॉक्टर्स  और मृतक के परिजनों के बीच मारपीट  के मामले की जांच पुलिस ने शुरू कर दी  है और इस सिलसिले में गवाहों के बयान  वगैरहा भी दर्ज कर घटना से जुड़े साक्ष्य  सबूत भी जुटा लिये है मगर इस मामले में  अभी तक कोई गिरफतारी नहीं हुई  है। 
इन्होंने शुरू किया आमरण अनशन:  पीबीएम की व्यवस्था में सुधार तथा दोषी  चिकित्सकों के खिलाफ कार्यवाही को  लेकर शुरू कि ये गये आमरण अनशन पर  मंगलवार को यूथ कांग्रेस के  लोकसभाध्यक्ष  बिशनाराम सियाग,  भाजयुमो के जिलाध्यक्ष भूपेन्द्र शर्मा,  यूथ कांग्रेस के प्रदेश सचिव शब्बीर अहमद,  पार्षद आनंद सिंह सोढ़ा,जावेद खां, यूथ  कांग्रेस के आजम अली कायमखानी,  फिरोज भाटी, महेन्द्र सिंह,भाजपा  किसान मोर्चा के मनोज जोशी, नवनीत  आचार्य,एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष मदन  कस्वां बैठे। 
ये रहे धरने में शामिल: जिला  कलक्ट्रेट पर दिये जा रहे  अनिश्चितकालीन  धरने पर सत्यप्रकाश  आचार्य,महावीर रांका,युधिष्ठिर  सिंह भाटी,सुरेन्द्र सिंह  राठौड़,शिवराज सिंह विश्नोई धरने में शामिल है।
 

Fast unto death Start    Fast unto death Start in Bikaner]