Monday, 23 October 2017

108 जनों को दी ब्रह्म दीक्षा

बीकानेर राजरतन मंदिर के पाटोत्सव कार्यक्रम में भाग लेने आये जगद्गुरु पंचम पीठाधीश्वर गोस्वामी वल्लभाचार्यजी महाराज ने आज प्रातः मंदिर प्रांगण 108 वैष्णव जन को ब्रह्म संबंध दीक्षा प्रदान की। इस अवसर पर महाराजश्री ने कहा कि एक साधे सब सधे अर्थात मनुष्य को अपने जीवन में एक गुरु एवं एक ईश्वर पर विश्वास करके उसकी आराधना में लीन होना चाहिए। जगह-जगह जाने और अनेक देवताओं को ध्यान करने के चक्कर में मनुष्य को कुछ भी हासिल नहीं होता। मनुष्य वैष्णव जन को निष्काम भाव से भक्ति करनी चाहिए। फल तो  पूर्व जन्मों के कर्म के हिसाब से मिलता है। राजभोग के दर्शन अवसर पर महाराज की उपस्थिति में ही गोचरण उत्सव के दर्शन हुए। आयोजन से जुडे बृजेन्द्र गोस्वामी ने बताया कि कल सायं 6 बजे महाराजश्री की उपस्थिति में मयूर विलास का उत्सव होगा। इस मौके पर मनमोहक झांकियों की प्रस्तुति के साथ ठाकुरजी का विशेष श्रृंगार किया जायेगा।

Rajrtn Temple