Monday, 23 October 2017

राजस्थान में विश्वस्तरीय अत्याधुनिक 10 बस टर्मिनल बनेगें

टर्मिनल्स पर बजट हॉटल्स, मॉल्स, डिपार्टमेन्टल स्टोर, मल्टीप्लेक्स सिनेमा, कॉफी हाउस, फास्ट फूट, साईबर केफे,

नई दिल्ली, राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम द्वारा जनसहभागिता से राजस्थान में विश्वस्तरीय अत्याधुनिक 10 केन्द्रीय बस टर्मिनल्स बनाये जायेगें। जिसके लिये समुचित कार्यवाही शुरू कर दी गई हैं।

 
राजस्थान रोडवेज राज्य सरकार द्वारा जयपुर में विश्वस्तरीय सुविधाएं उपलब्ध कराये जाने के संबंध में लिये गये निर्णय के क्रम में प्रथम चरण में जयपुर के मुख्य बस स्टेण्ड (सिन्धी कैम्प) के साथ ही अन्य तीन आगारों में भी विश्वस्तरीय बस टर्मिनलो के साथ ही अलवर, ब्यावर, सागवाड़ा, बूंदी, उदयपुर में भी विश्वस्तरीय केन्द्रीय बस स्टेण्ड बनाने के लिये कार्यवाही की जा रही है।
 
राजस्थान रोडवेज अन्य राज्यों जैसे महाराष्ट्र, गुजरात, उत्तरांचल, पंजाब, यूपी, दिल्ली, बैंगलोर की तर्ज पर भी अपने बस अड्डो का विकास करेगा जिसके तहत भी उन्नत श्रेणी के आधुनिक बस टर्मिनल पीपीपी के माध्यम से विकसित किये जायेगें।
 
निगम द्वारा पीपीपी के माध्यम से विकसित किये जाने वाले बस टर्मिनल्स पर बजट हॉटल्स, मॉल्स, डिपार्टमेन्टल स्टोर, मल्टीप्लेक्स सिनेमा, कॉफी हाउस, फास्ट फूट, साईबर केफे, केन्टीन स्टॉल , मेनेजमेन्ट इन्फारमेशन  सिस्टम के साथ ही यात्रियों के लिये आईडियल पार्किग, ट्यूरिस्ट सेन्टर , डिस्प्ले बोडर्स , पीआइएस प्रतिक्षालय , क्लॉक रूम , रेस्टरूम , लिफट , एलिवेटर , बैंगेज इन्स्पेक्शन सिस्टन यात्रियों की सुरक्षा हेतु व्हील चेयर ,विशेष टॉयलेट्स , रेम्वस आदि की विशेष सुविधा तथा यात्रियों के लिये विश्वस्तरीय सुविधाएं उपलब्ध कराई जावेगी।
 
निगम बस टर्मिनल विकासकर्ता को 30 साल के लिये लीज पर देगा तथा दो साल विकासकर्ता को बस टर्मिनल विकास के लिये दिये जावेंगे। इसके लिये विकासकर्ता रोडवेज को वार्षिक निर्धारित राशि जमा करायेगा। इसके लिये रोडवेज द्वारा निविदा प्रपत्रा 10 जून से बेचे जाऐगें तथा 6 जुलाई को प्रीबिड मीटिंग होगी तथा 27 जुलाई तक निविदाऐं प्राप्त की जावेगी।