Tuesday, 12 December 2017

ऊंट उत्सव 2011 का हुआ आगाज

जूनागढ से रवाना हुई शोभायात्रा में ऊंटों के लवाजामे के साथ श्रृंगारित व नर्तक ऊंट, ऊंट,के गाडे पर बैठा परिवार,ऊंट,पर चारा परिवहन, चारा काटने की मशीन, पानी की मशीन, ऊंट पर एस.बी.बी.जे. की विनिमय बैंक शामिल थे।

Virender Beniwal and Dr Pritvi Raj inaugrating the Camel Festival 2011 at Dr Karni Singh Stadium, Bikanerबीकानेर, डॉ.करणी सिंह स्टेडियम में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम, रेगिस्तानी जहाज ऊंटों की उपयोग की शोभायात्रा निकाली गई। अठारवें ऊंट उत्सव के पहले दिन मंगलवार को मिस मरवण, मिस्टर बीकाणा व श्रीमती बीकाणा , ऊंट नृत्य, ऊंट श्रृंगार तथा ऊंटों की बाल कतराई प्रतियोगिता आयोजित की गई।

उत्सव की शुरुआत राजस्थान विधान सभा में सरकारी मुख्य सचेतक वीरेन्द्र बेनीवाल ने शांति के प्रतीक सफेद कपोत तथा रंग बिरंगे गुब्बारे नभ में उडाकर तथा नगाडे पर डंका मारकर कर शुरूआत की । समारोह में जिला कलक्टर डॉ.पृथ्वीराज, पुलिस अधीक्षक डॉ.हबीब खां गौरान तथा बडी संख्या में देशी विदेशी शैलानी मौजूद थे। जूनागढ से रवाना हुई शोभायात्रा में अनूपगढ के मंगलाराम भील व ओम प्रकाश मश्क का वादन कर रहे थे। Foreign Couple at Dr Karni Singh Stadium during the Camel Festival 2011 held at Bikanerतांगों पर विदेशी सैलानी सवार थे। गंगा रिसाला के ऊंटों पर दो सवार हाथ में लिए हुए थे। करीब 400 स्कूली छात्राएं सिर पर कलश लिए हुए राजस्थानी वेशभूषा में चल रही थी। वहीं अनेक विदेशी पर्यटक मरुप्रदेश की वेशभूषा पहने चल रहे थे।  शोभायात्रा में सीमा सुरक्षा बल के जवान, उष्ट्र अनुसंधान केन्द्र के ऊंटों का लवाजामा, श्रृंगारित व नर्तक ऊंट, ऊंट,के गाडे पर बैठा परिवार, ऊंट, पर चारा परिवहन, चारा काटने की मशीन, पानी की मशीन, ऊंट पर एस.बी.बी.जे. की विनिमय बैंक आदि शामिल थे। वरिष्ठ शंखवादक कन्हैयालाल सेवग शंख ध्वनि कर रहे थे।   शोभायात्रा को जिला कलक्टर डॉ.पृथ्वीराज ने रवाना किया।

A local man with foreign tourists during Camel Festival 2011 held at Bikanerदोपहर के सांस्कृतिक कार्यक्रम में देश-विदेश में विख्यात गुलाबों व पार्टी ने कालबेलिया नृत्य पेश कर समा बांध दिया। शाम के सांस्कृतिक कार्यक्रम में बीकानेर की मानसीसिंह पंवार एवं पार्टी ने भवई नृत्य, बारां जिले की फुलवां की चक्री डांस पार्टी  ने चक्री नृत्य, पाली के पदरला की गंगा देवी एवं पार्टी ने बाबा रामदेव के भजन पर तेरह ताली नृत्य कर सराहना ली। कार्यक्रम का संचालन संजय पुरेहित, किशोर सिंह राजपुरोहित तथा ज्योति प्रकाश रंगा ने किया।

Foreign Tourist Enjoying Tanga “Horse Cart” Ride during Camel Festival 2011 inauguration march heldमंगलवार को हुई प्रतियोगिता के परिणाम बुधवार को लाडेरा में घोषित किए जाएंगे। बुधवार व गुरुवार को ऊंट उत्सव के सभी आयोजन लाडेरा गांव में होंगे। उत्सव के दूसरे दिन 19 जनवरी को जगदेव वाला से लाडेरा तक ऊंट सवारी, प्रतियोगिता, लाडेरा में ग्रामीण कुश्ती, कबड्डी, महिला मटका फोड, धोरा  दौड, मोटर बाइक रेस प्रतियोगिता, व सांस्कृतिक कार्यक्रम तथा शाम को अग्नि नृत्य का आयोजन होगा। उत्सव के तीसरे दिन 20 जनवरी को दोपहर बारह बजे से दोपहर एक बजे तक खो-खो प्रतियोगिता पुरुष व महिलाओं की होगी। दोपहर दो बजे महिला म्यूजिकल चैयर शो, महिला मटका दौड, रस्सा कस्सी, ऊंट दौड प्रतियोगिता तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम, अग्नि नृत्य होगा।

उत्सव के दौरान स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एण्ड जयपुर की ओर से विदेशी मुद्रा विनिमय मोबाइल काउंटर लगाया  गया। काउंटर में 35 हजार रुपए की मुद्रा का विनिमय किया गया। विनिमय काउंटर में प्रोबेशनरी अधिकारी रिम्पल  पूनिया,पवन श्रीवास्तव, शशांक सक्सेना एवं एस.डी.नागल ने सेवाएं दी। विनिमय काउंटर का अवलोकन बैंक के उप महाप्रबंधक वी.के.कोछड एवं सहायक महाप्रबंधक सतीश निगम ने भी अवलोकन किया। इन अधिकारियों ने बताया कि बैंक की ओर से भी उत्सव के दौरान होने वाली विभिन्न प्रतियोगिता के विजेताओं को भी बैंक की ओर से पुरस्कृत किया जाएगा।

Camel Festival   Gulabo   Travel Fair   Culture Fair   Camel Program   Rajasthan Fair   Bikaner Fair   Bika