Sunday, 22 October 2017

दो दिवसीय अन्तरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव 9 जनवरी से

बीकानेर में पर्यटन विकास के बढ़ते कदम

दो दिवसीय अन्तरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव 9 जनवरी से

बीकानेर, बीकानेर अपने गौरवमय इतिहास, कला, संस्कृति, पर्यटन, साहित्य, दर्शनीय स्थलों के कारण राष्ट्रीय ही नहीं अपितु अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर अलग पहचान रखता है। यहां स्थित ऐतिहासिक किला, महल, हवेलियां विश्वविख्यात हैं, साथ ही यहां के विभिन्न धार्मिक स्थल लाखों श्रद्धालुओं की आस्था के केन्द्र हैं। 
गत दो वर्षों में स्थानीय पर्यटक कार्यालय द्वारा पर्यटन विकास की दिशा में उल्लेखनीय कार्य किए गए हैं,साथ ही आगामी वर्ष के लिए भी कार्ययोजना तैयार की जा रही है। 

अन्तरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव - ऊंट उत्सव  ने बीकानेर को अन्तरराष्ट्रीय पर्यटन मानचित्रा पर विशिष्ट पहचान दिलाई है। जिला प्रशासन एवं पर्यटन विभाग के संयुक्त तत्वावधान् में 23वां अन्तरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव   9 और 10 जनवरी 2016 को आयोजित होगा। ऊंट उत्सव का शुभारम्भ शोभायात्रा से होगा तथा दो दिनों तक विभिन्न सांस्कृतिक एवं पारम्परिक कार्यक्रम आयोजित होंगे। पर्यटकों के लिए निःशुल्क कैमल सफारी एवं कैमल राइड, आर्मी द्वारा बैगपाइपर बैंड वादन, ऊंट श्रृंगार प्रतियोगिता, ऊंट बाल कतराई प्रतियोगिता, आर.ए.सी द्वारा बैंड वादन, ऊंट नृत्य, मिस मरवण- मिस्टर बीकाणा प्रतियोगिताएं , महिला एवं पुरूषों के लिए खो-खो प्रतियोगिता, पुरूष एवं महिला रस्साकस्सी, ग्रामीण कुश्ती, कबड्डी, साफा बांध प्रतियोगिता, महिला मटका दौड़ तथा महिला म्यूजिकल चेयर प्रतियोगिता का आयोजन होगा। इस अवसर पर फोटोग्राफी प्रदर्शनी आयोजित की जाएगी। कार्यक्रम के दौरान अग्नि नृत्य की प्रस्तुति भी दी जाएगी।
अन्तरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव पर विभाग ने वर्ष 2014 में 12 लाख 60 हजार रूपये व्यय किये । वर्ष 2015  में आयोजित उत्सव में प्रथम बार रायसर गांव में देशी एवं विदेशी पर्यटकों को निःशुल्क ऊंट सवारी कराई गई जिसको ंबड़ी संख्या में मौजूद पर्यटकों ने खूब सराहा । इस वर्षं इस आयोजन में विभाग ने 14लाख रूपये व्यय किये । 


सूचना एवं जनसम्पर्क कार्यालय के सहायक जनसम्पर्क अधिकारी  शरद केवलिया  ने  राजस्थान सरकार के पर्यटन विभाग द्वारा किये जा रहे अन्य आयोजनों की जानकारी भी दी। 


राजस्थान दिवस आयोजन
पिछले दो वर्षों में पर्यटक कार्यालय  द्वारा राजस्थान दिवस का भव्य आयोजन किया गया, जिसमें सांस्कृतिक संध्याओं का आयोजन किया गया । वर्ष 2014 के राजस्थान दिवस आयोजन पर  1 लाख रूपयेे एवं वर्ष 2015 में 1 लाख 60 हजार रूपये व्यय किये गये । उक्त आयोजन में बीकानेर से एक भव्य झांकी, राज्य स्तर पर होने वाले राजस्थान दिवस आयोजन पर ,जयपुर भेजी गई। 

विश्व पर्यटन दिवस आयोजन
गत दो वर्षों में पर्यटक कार्यालय  द्वारा अन्तरराष्ट्रीय विश्व पर्यटन दिवस का आयोजन किया गया । इसके तहत जूनागढ़ फोर्ट परिसर में देशी एवं विदेशी पर्यटकों का माल्यार्पण एवं तिलक लगा कर स्वागत किया गया  तथा उनके लिए लोक संगीत एवं नृत्य का कार्यक्रम भी रखा गया। इस दिन राजकीय संग्रहालय में देशी- विदेशी पर्यटकों,स्थानीय छात्रा-छात्राओं को निःशुल्क प्रवेश व पर्यटन साहित्य का वितरण भी किया गया ।

गोगामेड़ी मेले में सांस्कृतिक संध्या का आयोजन
वर्ष 2014 में गोगामेड़ी मेले में आने वाले लाखों श्रद्धालुओं के लिए पर्यटक कार्यालय द्वारा एक भव्य सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया । इस आयोजन में विभाग ने 2लाख रूपये व्यय किये। 

कोलायत मेले में सांस्कृतिक संध्या का आयोजन - वर्ष 2014 एवं 2015 में श्री कोलायत में कार्तिक पूर्णिमा पर मेले वाले दिन भव्य सांस्कृतिक संध्याओं का आयोजन कपिल घाट पर किया गया,  जिसमें स्थानीय मेलार्थियों के  साथ देशी एवं विदेशी पर्यटकों ने भाग लिया । उक्त आयोजन में विभाग ने वर्ष 2014 में 2 लाख 20 हजार  रूपये व्यय किये एवं वर्ष 2015 में 1 लाख रूपये की राशि व्यय की गई । 
 

बीकानेर पर्यटन   अन्तरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव