Sunday, 17 December 2017

बैठक में 10 प्रकरणों पर विचार विमर्श

बैठक शुक्रवार को कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित

 बीकानेर। जिला जन अभाव अभियोग निराकरण एवं सतर्कता समिति की बैठक शुक्रवार को कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित हुई। बैठक में 10 प्रकरणों पर विचार विमर्श हुआ। इनमें से 3 प्रकरणों को मौके पर निस्तारित कर दिया गया।आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मोहनी देवी के लम्बे समय से अनुपस्थित रहने के प्रकरण में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) के एम दूड़िया ने बताया कि शिकायत के बाद बाल विकास परियोजना अधिकारी, बीकानेर द्वारा इस प्रकरण की जांच करवाई गई। इस रिपोर्ट के अनुसार इस आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को मानदेय सेवाओं से पृथक कर दिया गया है। नई कार्यकर्ता की नियुक्ति की प्रक्रिया शीघ्र ही शुरू कर दी जाएगी। अध्यापिका निशा स्वामी द्वारा शिक्षा विभाग के विरूद्ध फर्जी दस्तावेजों के आधार पर मानसिक रूप से प्रताड़ित किए जाने की शिकायत की जांच के लिए सहायक कलक्टर, बीकानेर को अधिकृत किया गया। दूड़िया ने बताया कि जांच अधिकारी दोनों पक्षों की सुनवाई करते हुए रिपोर्ट शीघ्र ही प्रस्तुत करेंगे। मुरलीधर व्यास काॅलोनी निवासी आभा पुरोहित द्वारा मुरलीधर व्यास काॅलोनी में गंदगी हटाने तथा उनके भूखण्ड का कब्जा न दिए जाने के प्रकरण के संबंध में नगर निगम को सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करने तथा नगर विकास न्यास को कब्जा देने संबंधित बिंदुवार रिपोर्ट देने के निर्देश दिए गए।ग्राम पंचायत खारा में जारी फर्जी पट्टों की जांच के शिकायत प्रकरण के संबंध में जिला रसद अधिकारी तथा समिति सचिव नरेन्द्र सिंह पुरोहित ने बताया कि प्रकरण में दोषी ग्राम सेवक को राजस्थान सिविल सेवा अधिनियम की धारा 16 के तहत आरोप पत्रा दिया गया है। साथ ही दोषी पूर्व सरपंच के विरूद्ध आरोप तैयार किया जाकर संभागीय आयुक्त को भिजवाया जा चुका है। सेवानिवृत अध्यापिका जसवंत कौर को चयनित वेतनमान श्रंृखला स्वीकृत करने के प्रकरण में उन्होंने बताया कि अध्यापिका को चयनित वेतनमान का भुगतान कर दिया गया है तथा पुनः जीपीओ और पीपीओ जारी करने के लिए पेंशन विभाग को प्रकरण भिजवाया जा चुका है। जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के सदस्य श्रीलाल व्यास ने नत्थूसर गेट से हरिजन बस्ती की ओर जाने वाले नाले की मरम्मत तथा डिसिल्टिंग करवाने के प्रकरण को प्राथमिकता से करवाने की मांग की। उन्होंने कहा कि बरसात के मौसम को देखते हुए यह कार्य शीघ्र करवाया जाए जिससे कि स्थानीय निवासियों को किसी प्रकार की परेशानी न हो। बैठक में राज्य स्तरीय जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के सदस्य राजेश दाधीच, जिला स्तरीय समिति के सदस्य कमला बिश्नोई, महमूद कुरैशी, जिला परिषद के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी ताज मोहम्मद, स्थानीय निकाय विभाग के उपनिदेशक भवानी सिंह शेखावत, उपनिवेशन उपायुक्त दुर्गेश बिस्सा, नगर निगम आयुक्त अशोक सांगवा सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।