Monday, 30 November 2020

KhabarExpress.com : Local To Global News
  4947 view   Add Comment

वाइब्रेशन डांस एकेडमी का ग्रीश्मकालीन संगीत नृत्य प्रशिक्षण शुरू

नियमित एरिबिक्स, शारीरिक व्यायायाम, फिजीकल फिटनेश आदि की कक्षाएं

वाइब्रेशन डांस एकेडमी का ग्रीश्मकालीन संगीत नृत्य प्रशिक्षण शुरू

बीकानेर,16 मई। पवनपुरी में  वाइब्रेशन डांस एकेडमी  में बुधवार को करीब डेढ़ माह का विशेश ग्रीश्मकालीन संगीत नृत्य  शिविर विद्या व संगीत की देवी मां सरस्वती वंदना, स्तुति के साथ के शुरू हुआ। नन्हीं बालिकाओं व बेटी बचाओं बेटी पढाओं अभियान की जिला सदस्य श्रीमती अर्पिता गुप्ता  एकेडमी निदेशक सुरेन्द्र सिंह राठौड़ व मैनेजिंग डायरेक्टर  नीलम बंसल और सुशीला कंवर ने किया। 

Electronic Byke in Bikaner - Chandra Automobiles​शिविर सुबह  आठ बजे से दोपहर एक बजे तक व शाम को पांच बजे से रात नौ बजे तक चौबीस जून तक चलेगा ।  शिविर में विशेशज्ञ कलाकारों द्वारा  फिल्मी, गैरफिल्मी, राजस्थानी लोक व पंजाब विभिन्न प्रदेशों के साथ परम्परागत व आधुनिक नृत्य,  वेस्टर्न डांस के साथ पारम्परिक कालबेलिया, भवई आदि नृत्यों का  प्रशिक्षण दिया जाएगा। 

वाईब्रेशन डांस एकेडमी के निदेशक सुरेन्द्र सिंह राठौड ने बताया कि एकेडमी का यह लगातार पांचवा शिविर  है। शिविर के दोरान प्रशिक्षणाथि्र्ायों से सामान्य टोकन राशि ली जाएगी। इस टोकन राशि को जन हितार्थ व प्रशिक्षणार्थियांं के विकास के लिए लगाया जाएगा। प्रथम दिन विभिन्न स्कूलों व महाविद्यायों के चालीस से अधिक विद्यार्थियों ने पंजीयन करवाया है। बालिकाओं के लिए विशेश सुरक्षा व सुविधा के लिए महिला विशेशज्ञ डांसर सेवाएं देगी। 

राठौड ने बताया कि एकेडमी में नियमित एरिबिक्स, शारीरिक व्यायायाम, फिजीकल फिटनेश आदि की कक्षाएं वर्शभर संचालित होती है। अर्पिता गुप्ता ने कहा कि ग्रीश्मकाल के दौरान बच्चों के रचनात्मक व सृजनात्मक विकास के लिए इस तरह के शिविर आवश्यक है। उन्होंने शिविरार्थियों से मन लगाकर सीखने की सलाह दी। 

Tag

Share this news

Post your comment