Thursday, 24 June 2021

KhabarExpress.com : Local To Global News
  2202 view   Add Comment

अब चलने लगा है चंदन

श्रीगंगानगर, २३ अगस्त., श्रीगंगानगर में रिक्शा चलाकर अपना पेट भरने वाले रामभरोसे दास को उम्मीद नहीं थी की उसका ७ वर्स का बेटा चंदन रैगने की बजाय दौड भी सकता है, गरीब रिक्शा चालक ने सूचना केन्द्र के सहायक सूचना एवम जनसम्फ अधिकारी श्री रामकुमार पुरोहित से मिलकर मदद की गुहार की तो श्री पुरोहित ने स्वयसेवी संस्था खत्री आर्टीजन लिम्स चैरीटेबल टस्ट के संस्थापक अवम डा अशोक खत्री से मिलकर विकलांग बच्चे की आवश्यक मदद करने की बात कही, डा खत्री ने अपने दस दिन की मेहनत से चंदन के एक पूरे पैर में लगने वाला एच के एफ ओ तैयार कर चंदन को इसे लगाकर चलने का अभ्यास करवाया देखते ही देखते सामान्य बच्चों की तरह चलने लगा तो उसकी खुशी का कोई ठिकाना न रहा चंदन पिछले पांच वर्स से रैग कर चलता था उसका बायां पैर बहुत कमजोर था लेकिन चंदन अब सामान्य लडकों की तरह चलकर स्कूल जा सकेगा तथा दौड सकेगा  डॉ खत्री इस क्षेत्र में पिछले कई वर्स से विकलाग व्यक्तियों के उपकरण निशुल्क देते रहे है इस सेवा के लिए इन्हें स्टेट, नेशनल व भामाशाह जैसे पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है

Share this news

Post your comment