Monday, 27 September 2021

KhabarExpress.com : Local To Global News
  3417 view   Add Comment

अधिकाधिक पढे, दूसरों को पढाए, आगे बढे तथा बढाए

राजीव गांधी विद्यार्थी डिजीटल योजना के तहत टेबलेट-पीसी पुरस्कार वितरण समारोह

 बीकानेर, 14 मई। राज्य वित आयोग के अध्यक्ष डॉ. बुलाकी दास कल्ला ने कहा है कि विद्यार्थी अधिकाधिक पढे, दूसरों को पढाए, आगे बढे तथा बढाए। हमेशा व्यस्त, स्वस्थ व मस्त रहकर लक्ष्य को प्राप्त करें।डॉ. कल्ला मंगलवार को महारानी स्कूल में राजीव गांधी  विद्यार्थी डिजीटल योजना के तहत टेबलेट-पीसी पुरस्कार वितरण समारोह में अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार ने प्रदेश से निरक्षरता के कलंक को मिटाने तथा शिक्षा को बढावा तथा आम लोगों को राहत देने के लिए जन कल्याणकारी योजनाएं संचालित की है। इन योजनाओं का लाभ सभी वर्ग व तबके के लोगों को मिल रहा है। राज्य वित आयोग के अध्यक्ष ने कहा राजीव गांधी विद्यार्थी डिजीटल योजना में लेपटॉप व पी.सी. प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों से प्रेरणा लेकर शिक्षा की अलख को गांव-गांव-ढाणी-ढाणी तक जगाएं  उन्होंने बताया कि विद्यार्थियों को निःशुल्क शिक्षा प्रदान की जा रही है। पोषाहार, साइकिल, छात्रवृति सहित विविध सुविधाएं सुलभ करवाई जा रही है। सरकार ने महा पेंशन अभियान चलाकर जरूरत मंदों को पेंशन, सरकारी अस्पतालों में दवाइयां व जांच निःशुल्क करवाने के साथ बुजुर्गों की यात्रा में भी सहायता देने की अनुकरणीय योजना लागू की है। मुख्यमंत्री बी.पी.एल. एवं शहरी आवास योजना के माध्यम से पक्के मकान का सपना साकार किया जा रहा है। जिला प्रमुख रामेश्वर डूडी ने कहा कि सरकार ने शिक्षा-चिकित्सा सहित विविध क्षेत्रों में अनुकरणीय कार्य किए है तथा हर वर्ग व तबके के उत्थान के प्रयास किए है। शिक्षा के क्षेत्र में लैपटॉव व टैबलेट, साइकिल व अन्य सुविधाएं उपल?ध करवाकर इतिहास रचा है। सरकार ने आम आदमी के हित का सोच रखते हुए नीतियां व योजनाएं लागू की है। उन्होंने कहा कि सूचना एवं तकनीकी के इस युग में विद्यार्थियों को लैपटॉप व पी.सी. मिलने से उनका विकास होगा।नगर निगम के महापौर भवानी शंकर शर्मा ने कहा कि शिक्षा में बालिकाओं व महिलाओं को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार ने अपने बजट में प्रावधान किए है। नगर निगम में महिलाओं के लिए 3॰ प्रतिशत आरक्षण है । संसद में भी महिलाओं को आरक्षण देने के प्रयास किए जा रहे है। नगर विकास न्यास के अध्यक्ष मकसूद अहमद  ने कहा कि बजट घेषपणा की अनुपालना में अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जन जाति के छात्र-छात्राओं को देय पूर्व मैट्रिक छात्रवृति की दर में संशोधन कर अब 5॰ रुपए के स्थान पर 75 रुपए, कक्षा छसे आठ वीं तक की छात्राओं को 1॰॰ के स्थान पर 125 रुपए की छात्रवृति दी जाएगी। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, अजमेर की दसवीं व बारहवीं की कक्षाओं की परीक्षाओं में प्रत्येक जिले में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली छात्रा को इंदिरा प्रियदर्शनी पुरस्कार के रूप में देय राशि को बढा दिया है। इससे महिला शिक्षा को बढावा मिलेगा।     जिला शिक्षा अधिकारी अख्तर अली ने बताया कि जिले में विभिन्न स्कूलों में समारोह आयोजित कर राजीव गांधी विद्यार्थी  डिजीटल योजना के तहत टेबलेट-पीसी पुरस्कार के रूप में दिए जा रहे है। जिले में पी.सी. के लिए 7 हजार हजार एक सौ विद्यार्थियों को चुना गया है। इनको पी.सी. के लिए 6-6 हजार रुपए का बैंकर चैक प्रदान किया गया है। श्रीडूंगरगढ, लूणकरनसर, नोखा व कोलायत में पी.सी. के लिए चैक वितरण के लिए पर्यवेक्षक लगाए गए है।  प्रथम आने वाली छात्राओं को 1॰ छात्राओं को लेपटॉप प्रदान किया जाएगा।समारोह में ज्योति प्रकाश रंगा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के संदेश का वाचन किया। संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि सबके लिए शिक्षा राष्ट्र की पहली आवश्यकता है। ज्ञान एवं विज्ञान के इस आधुनिक युग में हमारा प्रयास है कि सभी छात्रा एवं छात्र प्रतिदिन विद्यालय में आकर अच्छी शिक्षा प्राप्त करें। हमारी जिन्दगी कम्प्यूटर, इंटरनेट एवं मोबाइल से अधिक सुगम हो रही है। सरकारी हो या गैर सरकारी सभी क्षेत्रों में सुनहरे भविष्य के लिए सूचना तकनीक की जानकारी एवं उसका उपयोग अति आवश्यक  है। राज्य के विद्यार्थियों को समय की मांग के मताबिक तकनीकी क्षेत्र में प्रोत्साहित करने के लिए राजीव गांधी  विद्यार्थी डिजिटल योजना लागू की गई है, जिसके तहत प्रत्येक राजकीय विद्यालय की कक्षा 8 में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थी एवं कक्षा दसवीं एवं बारहवीं में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले 1॰-1॰ हजार विद्यार्थियों को भी लेपटॉप दिए जा रहे है। यह अभूतपूर्व योजना वर्ष 212-13 में लागू की गई । इसका विस्तार वर्ष 213 में करते हुए 8 वीं कक्षा के दूसरे से ग्यारहवें स्थान प्राप्त करने वाले 1॰ विद्यार्थियों को भी टेबलेट पी.सी. पुरस्कार रूप में देय है। मुख्यमंत्री ने संदेश में बताया कि टेबलेट-पीसी, कम्प्यूटर की तरह कार्य करता है तथा मोबाइल फोन एवं लेपटॉप के मध्य कई उपयोगी फीचर्स तथा टच स्क्रीन के साथ शिक्षार्जन के लिए एक उत्तम साधन है । इससे विद्यार्थी विभिन्न विषयों की पठन सामग्री की जानकारी रूचिकर तरीके से प्राप्त कर सकते है। इस पुरस्कार से विद्यार्थियों को गुणवतापूर्ण शिक्षा मिलेगी, जिससे वे अपने जीवन को समृद्घ एवं सुखमय बना सके। स्कूल की प्राचार्या श्रीमती रक्षा सिंह ने आभार व्यक्त किया। समारोह में 1॰ विद्यार्थियों को लैपटॉप के लिए प्रमाण पत्र तथा 1॰॰ छात्र-छात्राओं को पी.सी. के लिए 6॰॰॰ रुपए के बैंकर चैक प्रदान किए गए। समारोह में श्री गंगानगर के पूर्व सांसद शंकर पन्नु भी उपस्थित थे।समारोह में रामसिंह, मानसी राठौड, वीणा सेन, सुलताना, आशा चौहान, मोहिनी, गीता सोनगरा, चन्द्रा स्वामी, मोबिना बानो व आयशा बानो को लैपटॉप का प्रमाण पत्र, मुख्यमंत्री का बधाई संदेश, सूचना एवं जन सम्फ विभाग की ओर से प्रकाशित साहित्य प्रदान किया गया।

 

 

Tag

Share this news

Post your comment